नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। Public Provident fund आज के समय में हर व्यक्ति करोड़पति बनना चाहता है। कई एक्सपर्ट निवेशकों को शेयरों या फिर म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सुझाव देते हैं, लेकिन इसमें निवेश काफी जोखिम भरा माना जाता है और रिटर्न की भी कोई भी गारंटी नहीं होती है। कई बार तो निवेशकों की रकम डूब भी जाती है।

ऐसे में सरकारी बचत योजनाएं निवेशकों के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकती हैं और इससे भी करोड़पति बन सकते हैं। इसमें जोखिम भी न के बराबर होता है ऐसी ही सरकारी बचत योजना है पब्लिक प्रोविडेंड फंड (PPF), जिसके बारे में हम अपनी इस रिपोर्ट में बताने जा रहे हैं।

पब्लिक प्रोविडेंड फंड (PPF)

पब्लिक प्रोविडेंड फंड यानी पीपीएफ एक सरकारी बचत योजना है। आप अपने नजदीकी डाकघर या फिर पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ अकाउंट खुलवा सकते हैं। इसमें अधिकतम 1.50 लाख रुपये का टैक्स फ्री निवेश एक वित्त वर्ष में किया जा सकता है। ये योजना इनकम टैक्स की धारा 80सी के दायरे में आती है।

PPF में न्यूनतम निवेश और लॉक-इन पीरियड

पीपीएफ में भारत में रहने वाला कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है। इसमें एक वित्त वर्ष में कम से कम 500 रुपये जमा करने होते हैं। अगर ऐसा कोई व्यक्ति नहीं करता है, तो उसका खाता इनएक्टिव हो सकता है। हालांकि, इसमें 15 साल का लॉक-इन पीरियड होता है और फिर पांच-पांच साल के अवधि के लिए आप इसे बढ़ा सकते हैं।

कैसे बने करोड़पति?

अगर आप पीपीएफ में रोजाना करीब 410 रुपये का निवश करते हैं, तो 15 साल बाद अवधि पूरी होने पर 7.1 प्रतिशत की ब्याज दर के हिसाब से 40,68,2019 रुपये मिलेंगे, लेकिन अगर आप पांच-पांच करके इसकी अवधि को दो बार बढ़ाते हैं, तो फिर आपकी रकम बढ़कर 1.03 करोड़ के करीब हो जाएगी। इस दौरान आप पीपीएफ में नियमित निवेश करके ही करोड़पति बनने के लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें-

Windfall Profit Tax: केंद्र सरकार ने दी तेल कंपनियों को राहत, घटाया विंडफॉल टैक्स, जानें क्या होगा इसका असर

Indian Economy में तेजी का असर, 2023 में पिछले साल के मुकाबले अधिक रफ्तार से वेतन बढ़ाएंगी कंपनियां : सर्वे

 

Edited By: Abhinav Shalya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट