Move to Jagran APP
Featured story

Investment Option: शॉर्ट, मिड और लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट में से कौन-सा है बेस्ट, किसमें मिलेगा ज्यादा रिटर्न

Investment Option बच्चों की पढ़ाई हो या फिर गाड़ी खरीदना हो हम सब ज्यादा से ज्यादा सेविंग करने की कोशिश करते हैं। ऐसे में सेविंग को बढ़ाने में निवेश काफी मदद करता है। जब भी निवेश की बात आती है तो हमारे सामने तीन ऑप्शन होते हैं। आज हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि इन तीनों ऑप्शन में से सबसे ज्यादा रिटर्न किसमें मिलता है।

By Priyanka Kumari Edited By: Priyanka Kumari Published: Wed, 24 Apr 2024 08:38 AM (IST)Updated: Wed, 24 Apr 2024 08:38 AM (IST)
Investment Option: शॉर्ट, मिड और लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट में से कौन-सा है बेस्ट

बिजनेस डेस्क, नई दिल्ली। निवेश के लिए भले ही वर्तमान में बहुत सारे ऑप्शन मौजूद है पर हमारी कोशिश होती है कि हम उस ऑप्शन को सेलेक्ट करें जिसमें ज्यादा रिटर्न मिले। दरअसल, अपने फाइनेंशियल गोल्स को पूरा करने के लिए ही हम निवेश करते हैं। 

उदाहरण के तौर पर अगर 4 साल में घर बनाने का प्लान है तो हम एक निवेश का एक ऐसा ऑप्शन ढूंढेंगे जिसमें हमें 4 साल के बाद ज्यादा रिटर्न मिले।

निवेश के टेन्योर के हिसाब से हमारे पास तीन ऑप्शन (शॉर्ट टर्म, मिड टर्म और लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट) होता है। इन तीनों ऑप्शन को लेकर कई लोग कंफ्यूज हो जाते हैं कि आखिर इन ऑप्शन में से किसे सेलेक्ट करें।

अगर आप भी निवेश का सोच रहे हैं तो पहले आपको इन तीनों के बीच के अंतर को समझना बहुत जरूरी है। इनके अंतर को समझने के बाद आप आसानी से समझ पाएंगे हैं कि आपके लिए कौन-सा ऑप्शन बेस्ट है।

शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट

अगर आप कम रिस्क के साथ फाइनेंशियल गोल्स को पूरा करना चाहते हैं तो शॉर्ट टर्म इन्वेस्टमेंट (Short Term Investment) काफी अच्छा ऑप्शन है। हालांकि, इसमें बाकी ऑप्शन की तुलना में काफी कम रिटर्न मिलता है। अगर आपको 1 या 2 साल की अवधि के लिए निवेश करना है तो आप इसे सेलेक्ट कर सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर मोबाइल खरीदना, विदेश घूमने या फिर लोन की पेमेंट और इमरजेंसी फंड (Emergency Fund) को तैयार करने के लिए यह ऑप्शन काफी अच्छा है।

इसमें निवेश करने के लिए आपको इनकम और खर्चों का बजट बनाना होगा। इसके बाद आप सही स्कीम में अपनी सेविंग का हिस्सा डिपॉजिट कर सकते हैं जहां से आप समय पड़ने पर आसानी से निकासी कर पाएं।  

यह भी पढ़ें- Pension Calculator: PF अकाउंट से कितनी मिलेगी पेंशन, यहां समझें पूरा कैलकुलेशन

मिड टर्म इन्वेस्टमेंट

आप कोई वित्तीय लक्ष्य को पांच साल में हासिल करना चाहते हैं तो ऐसे में आप मिड टर्म इन्वेस्टमेंट (Mid Term Investment) में निवेश कर सकते हैं। इसमें हालांकि जोखिम होता है। ऐसे में जोखिम से बचने के लिए आपको बाजार के उतार-चढ़ाव और रिटर्न के बदलावों पर नजर रखनी होगी।

आप अपने फाइनेंशियल गोल्स को पूरा करने के लिए म्यूचुअल फंड (Mutual Fund), एफडी (FD) या फिर किसी दूसरे स्कीम में निवेश कर सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर अगर आपको कोई कार खरीदनी है या फिर कोई नया बिजनेस शुरू करना है तब आप इस इन्वेस्टमेंट ऑप्शन को सेलेक्ट कर सकते हैं। इस ऑप्शन में आप बिना जोखिम के भी निवेश कर सकते हैं।

बता दें कि आप जब भी कोई स्कीम सेलेक्ट करें तो अवश्य रिटर्न के साथ नियमों व शर्तों को पढ़ें। कभी भी निवेश करते समय जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए।

लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट

5 साल से ज्यादा के समय के लिए आप अगर निवेश करते हैं तो आप लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट (Long Term Investment) के ऑप्शन को चुन सकते हैं। यह ऑप्शन आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा।

अगर आप बच्चों की पढ़ाई , घर खरीदने, रिटायरमेंट के बाद इनकम को जारी रखने के लिए निवेश करना चाहते हैं तब आपको लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करनी चाहिए। आमतौर पर इसमें काफी अच्छा रिटर्न मिलता है।

इसमें आप चाहें तो रिस्क के साथ भी निवेश कर सकते हैं या फिर बिना जोखिम वाली स्कीम में भी निवेश कर सकते हैं।

इसमें निवेश के लिए आपको अपनी इनकम और खर्चों का एनालिसिस करना होगा। दरअसल, आप इसमें लंबे समय तक निवेश करेंगे ऐसे में आपको सभी स्थितियों का सोचने के बाद और वित्तीय स्थिति के अनुसार ही निवेश करना चाहिए। आप लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट के लिए स्टॉक, बॉन्ड या प्रोविडेंट फंड (PPF) जैसे कई ऑप्शन को सेलेक्ट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana में सरकार देती है 2 लाख रुपये तक का इंश्योरेंस, जानें कैसे करें आवेदन

 


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.