नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। अब आप आसानी से क्रेडिट कार्ड (Credit Card) के जरिए यूपीआई (UPI) से कहीं भी भुगतान कर सकते हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि आरबीआई ने यूपीआई को क्रेडिट कार्ड से लिंक करने को मंजूरी दे दी है। इससे क्रेडिट कार्ड धारकों को बड़ा लाभ होगा। इसके साथ ही दुकानदारों की बिक्री में बढ़ोतरी होने की संभावना है।

सरकार के इस कदम से देश में यूपीआई पेमेंट सिस्टम को बड़ा बूस्ट मिल सकता है। यूपीआई से होने वाले लेनदेन में बड़ी बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। अब तक केवल क्रेडिट कार्ड से इंटरनेट बैंकिंग और पीओएस जैसे माध्यमों के जरिए ही भुगतान किया जा सकता था।

तीन बैंकों को मिली मंजूरी

आरबीआई की ओर से शुरुआत में केवल रुपे क्रेडिट कार्ड को ही यूपीआई से जोड़ने की अनुमति दी गई है। फिलहाल आरबीआई की ओर से पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन बैंक को ही मंजूरी मिली है यानी इन बैंकों के क्रेडिट कार्ड का प्रयोग फिलहाल यूपीआई भुगतान के लिए किया जा सकता है।

यूपीआई लाइट को लिया लॉन्च

इसके साथ ही एनपीसीआई की ओर से 'यूपीआई लाइट' (UPI Lite) को लॉन्च किया गया है। यह कम मूल्य के लेनदेनों में तेजी लाएगा। यूपीआई लाइट की मदद से यूजर्स कम मूल्य के लेनदेन को ऑफलाइन मोड के जरिए कर पाएगा। एनपीसीआई ने कहा कि 'यूपीआई लाइट' के जरिए यूजर आसानी से पहले के मुकाबले तेजी से लेनदेन कर सकेंगे। यूपीआई में होने वाले 50 प्रतिशत से अधिक लेनदेन 2,000 रुपये से कम के होते हैं। इससे बैंकों पर डेबिट लोड भी घटेगा।

यूपीआई लाइट के लिए शुरुआत में केनरा बैंक, एचडीएफसी बैंक, इंडियन बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, पंजाब नेशनल बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक को मंजूरी मिली है।

यूपीआई से लेनदेन

एनपीसीआई ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, अगस्त 2022 में यूपीआई ने 6.58 अरब लेनदेन के हुए थे। इस दौरान इसकी कुल वैल्यू करीब 10.73 लाख करोड़ रुपये थाी।

ये भी पढ़ें-

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म लिंक्डइन हुआ ठप्प, हजारों यूजर्स को हुई परेशानी; कंपनी ने रिस्टोर की सर्विस

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 51 पैसे टूटा रुपया, अब तक के सबसे निचले स्तर 80.47 पर

Edited By: Abhinav Shalya

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट