नई दिल्ली, पीटीआइ। अब जल्द ही आपको मॉल्स में भी दुकानें खुली हुई मिल सकती हैं। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा है कि स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों को ध्यान में रखने के बाद जल्द ही मॉल्स की दुकानों को खोलने का निर्णय लिया जा सकता है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर खुदरा व्यापारियों के मुद्दों पर चर्चा की थी।

दिशानिर्देशों में ढील के बाद भी खुदरा व्यापारियों के सामने आ रही चुनौतियों के बारे में उन्होंने कहा कि आवश्यक और गैर-आवश्यक के किसी भेद के बिना अधिकांश दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई है। मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'स्वास्थ्य मंत्रालय के दिशानिर्देशों को ध्यान में रखने के बाद जल्द ही मॉल्स की दुकानों को भी खोलने की अनुमति दी जाएगी।'

यह भी पढ़ें: मंदी के दौर में इस स्कीम से दोगुना होगा आपका पैसा, जानिए कैसे करती है काम

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा कोरोना वायरस से लड़ने के लिए घोषित आत्मनिर्भर भारत पैकेज में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) के लिए 3 लाख रुपये की क्रेडिट गारंटी दी गई है और इसमें व्यापारी भी कवर होते हैं।

गोयल ने व्यापारियों से कहा कि उन्हें ई-कॉमर्स से अपने लिए खतरा महसूस नहीं करना चाहिए, क्योंकि आम आदमी को अब यह पता चल गया है कि पड़ोस के किराना स्टोर्स ही संकट की घड़ी में काम आते हैं। उन्होंने कहा कि  सरकार खुदरा व्यापारियों के लिए बिजनेस-टू-बिजनेस सुविधा के तंत्र पर काम कर रही है और उनकी पहुंच का विस्तार करने के लिए उन्हें तकनीकी मदद उपलब्ध करा रही है।

यह भी पढ़ें: RIL Rights Issue में निवेशकों के पास है बस आज भर का मौका, जानिए कब देनी होगी कितनी रकम

गोयल ने कहा कि व्यापारी समुदाय की टर्म लोन और मुद्रा लोन से संबंधित समस्याओं का हल निकालने के लिए इन्हें वित्त मंत्रालय के समाने रखा जाएगा। उन्होंने कहा, 'कई संकेतक यह बताते हैं धीरे-धीरे आर्थिक स्थिति सुधर रही है। इस महीने बिजली की खपत पिछले साल की समान अवधि के लगभग बराबर है। निर्यात, जो कि अप्रैल में 60 फीसद गिर गया था, वह अब बढ़ रहा है और प्राथमिक आंकड़े बताते हैं कि इस महीने निर्यात में गिरावट कम होगी।'

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस