Move to Jagran APP

BPSC शिक्षक बना पकड़ौआ शादी का शिकार, गुस्साए लोग तो दुल्हन संग तलाश लाई पुलिस; Photos

Bihar News बिहार में पकड़ौआ शादी का एक और मामला सामने आया है। प्रदेश में इन दिनों शिक्षक बहाली को लेकर हलचल तेज है। एक लाख से ज्यादा नए शिक्षकों को बीपीएससी से नियुक्त भी मिल गई है। ऐसे में पकड़ौआ विवाह के मामले जोर पकड़ने लगे हैं। बहरहाल पूरा यह मामला पातेपुर का है। यहां शिक्षक के दादा ने आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

By Jagran NewsEdited By: Yogesh SahuPublished: Thu, 30 Nov 2023 07:40 PM (IST)Updated: Thu, 30 Nov 2023 07:49 PM (IST)
BPSC शिक्षक बना पकड़ौआ शादी का शिकार, गुस्साए लोग तो दुल्हन संग तलाश लाई पुलिस; Photos
अपह्रत शिक्षक की बरामदगी को लेकर आक्रोशितों द्वारा किया गया स्टेट हाइवे को जाम

संवाद सूत्र, पातेपुर। Bihar News : बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित परीक्षा में सफल होने के बाद शिक्षक बने पातेपुर के एक शिक्षक पकड़ौआ शादी (Pakadwa Vivah) के शिकार बन गए। उनके स्वजन ने इस मामले में अपहरण की आशंका व्यक्त करते हुए पुलिस को आवेदन दिया था।

loksabha election banner

वहीं, शिक्षक की बरामदगी को लेकर आक्रोशितों ने हाजीपुर-ताजपुर मुख्य मार्ग को घंटों जाम लगाए रखा। बाद में पकड़ौआ शादी की बात सामने आने पर लोग शांत हुए।

पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए शिक्षक को बरामद कर लिया है। पुलिस ने जब शिक्षक को बरामद किया तब उनके साथ उनकी नवविवाहिता पत्नी भी थी। पूरा मामला पातेपुर थाना क्षेत्र का है।

शिक्षक के अपहरण से गुस्साए लोग

बताया जाता है कि पातेपुर के रेपुरा स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय से बीपीएससी शिक्षक (BPSC Teacher) का अपहरण कर लिए जाने के विरोध में आक्रोशित स्वजन व ग्रामीणों ने ताजपुर-हाजीपुर स्टेट हाइवे 49 को कर दिया।

इसके पूर्व स्वजन ने पुलिस को शिक्षक के अपहरण की प्राथमिकी के लिए आवेदन दिया था। जाम की सूचना पर पुलिस ने अपहृत शिक्षक को सकुशल बरामद कर लेने का आश्वासन देकर जाम खत्म कराया।

आश्वासन के कुछ घंटे के भीतर पातेपुर पुलिस ने अपहृत शिक्षक को महनार थाना क्षेत्र के नारायणपुर डेढ़पुरा गांव से बरामद कर लिया। पुलिस को शिक्षक के साथ उनकी नवविवाहिता पत्नी भी मिलीं।

अपह्रत शिक्षक की बरामदगी को लेकर आक्रोशितों द्वारा किया गया स्टेट हाइवे को जाम। 

शिक्षक को यहां मिली थी पोस्टिंग

पुलिस द्वारा बरामद शिक्षक पातेपुर थाना क्षेत्र के हीं महया मालपुर गांव के रहने वाले हैं। थाना क्षेत्र के रेपुरा उत्क्रमित मध्य विद्यालय में उनकी पहली पोस्टिंग मिली थी।

स्कूल क्षेत्र के ही पांच लोगों पर अपहरण कर लेने का आरोप लगाते हुए शिक्षक के दादा ने थाना एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस ने इस मामले में एक को हिरासत में भी लिया है।

शिक्षक के दादा ने पुलिस से की थी शिकायत

पातेपुर थाना क्षेत्र के महया मालपुर गांव निवासी राजेन्द्र राय ने 29 नवंबर को पातेपुर थाना में शिक्षक पोते का अपहरण कर लिए जाने की लिखित शिकायत दी थी।

उन्होंने आवेदन में कहा कि उनका पोता गौतम कुमार बीपीएससी शिक्षक के रूप में पातेपुर थाना क्षेत्र के रेपुरा गांव स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय में पदस्थापित है।

बुधवार को विद्यालय में शिक्षण कार्य कर रहे थे, उसी दौरान गांव के ही राजेश राय, डब्लू राय, भूषण राय तीनों पिता स्व. लखेन्द्र राय, विनोद राय, प्रमोद राय दोनों पिता रामचंद्र राय, गौतम को स्कूल से अगवा कर बोलेरो पर बैठाकर ले गए।

अपहरण के विरोध में पांच घंटे तक रहा हाइवे जाम

बीपीएससी शिक्षक गौतम के स्कूल से कथित अपहरण कर लिए जाने के विरोध में परिजन व ग्रामीण स्थानीय मालपुर के शिवना चौक पर जाम लगाकर एसएच 49 पर यातायात अवरुद्ध कर दिया।

सुबह सात बजे से दोपहर 1 बजे तक स्टेट हाइवे जाम रहा। पुलिस ने कुछ घंटों में अपहृत शिक्षक को बरामद कर लेने का आश्वासन देकर जाम खत्म कराया।

शादी के बाद शिक्षक दूल्हे के साथ दुल्हन।

महनार क्षेत्र से शिक्षक बरामद

पुलिस टीम (Bihar Police) को अपहृत शिक्षक के विषय में पूरी जानकारी मिल चुकी थी। पुलिस टीम ने महनार थाना क्षेत्र के नारायणपुर डेढ़पुरा गांव से अपहृत शिक्षक गौतम को बरामद कर लिया।

बताया गया कि शिक्षक को पकड़ौआ शादी के लिए उठाया गया था। आरोपी बनाए गए राजेश राय की पुत्री से शिक्षक गौतम की शादी कराई जा चुकी है। नारायणपुर डेढ़पुरा में बच्ची के चाचा का ससुराल है।

भनक लगते ही शादी में विघ्न डालने लड़के वाले ना पहुंच जाएं, इसलिए गांव से दूर बच्ची के चाचा के ससुराल लाकर विवाह कराए जाने की बात कही जा रही है। पुलिस ने इस मामले में एक को हिरासत में लिया है।

हालांकि, मामला वैवाहिक होने के वजह से दोनों गांव के ग्रामीणों के स्तर से आपसी समझौता करने की पहल शुरू हो गई है।

ये कहते हैं पदाधिकारी

शिक्षक गौतम के अपहरण का आवेदन बुधवार को मिला था, जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई है। पुलिस कार्रवाई में अपह्रत शिक्षक को सकुशल बरामद कर लिया गया है। शिक्षक को 164 के तहत बयान दर्ज करने के लिए कोर्ट भेजा गया है। कोर्ट में दिए बयान और कोर्ट के आदेश के अनुसार कार्रवाई की जाएगी। - हसन सरदार, प्रभारी थानाध्यक्ष, पातेपुर थाना

यह भी पढ़ें

'मारना शुरू करेंगे तो होश ठिकाने...', JDU विधायक का Video Viral; सदर अस्पताल में डॉक्टर से भिड़े

West Champaran: ऑनलाइन गेम में बने दोस्त, लेनदेन को लेकर हुआ विवाद, तो कॉलेज से ही कर लिया अपहरण; मांगी 2 लाख की फिरौती


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.