पटना [जेेएनएन]। बिहार की महागठबंधन सरकार के दो मुख्य सहयोगी राष्ट्रीय जनता दल और जनता दल यूनाइटेड के बीच मंगलवार को एक बार फिर से अंतर्कलह देखने को नजर आया, जब आरजेडी के कुछ विधायकों ने उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाने की मांग छेड़ दी।

आरजेडी के विधायक सुरेंद्र यादव, रामानुज और आरजेडी कोटा से मंत्री चंद्रशेखर ने तेजस्वी के समर्थन में आवाज उठाई है।

'अब तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाया जाए'

राजद के विधायक और पूर्व मंत्री सुरेन्द्र यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की तरह ही बिहार में पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं उप मुख्यमंत्री यादव को नेतृत्व मिलनी चाहिए। यादव मुख्यमंत्री पद के लिए सही दावेदार हैं। उन्होंने कहा कि वक्त आ चुका है कि तेजस्वी को अब मुख्यमंत्री बनाया जाए।

तेजस्वी यादव भी भविष्य के मुख्यमंत्री : लालू

इस बीच आग में घी डालने का काम किया आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने। हाजीपुर पहुंचे एक कार्यक्रम में अखिलेश यादव और तेजस्वी यादव भी भविष्य के मुख्यमंत्री हैं क्योंकि वह खुद और समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव अब बूढ़े हो चुके हैं। हालांकि लालू ने यह भी साफ किया कि फिलहाल बिहार में मुख्यमंत्री की कुर्सी के लिए कोई वैकेंसी नहीं है, नीतीश मुख्यमंत्री है और सरकार चला रहे हैं।

यह भी पढ़ें: लालू ने पीएम मोदी पर कसा तंज कहा, क्यों कैशलेस-कैशलेस चिल्लाते रहते हो?

इस तरह के बयान से सिर्फ नुकसान : जदयू

वहीं, घटक दल जदयू के विधायक और पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक ने कहा कि इस तरह के बयान से केवल नुकसान ही होगा। उन्होंने कहा कि राजद विधायकों को इस तरह का बयान नहीं देना चाहिए।

जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा की बिहार चुनाव से पहले लालू प्रसाद यादव ने नीतीश कुमार को महागठबंधन का नेता मान लिया था, ऐसे में बिहार में मुख्यमंत्री के लिए वैकेंसी नहीं है। हालांकि तेजस्वी पर चुटकी लेते हुए नीरज ने कहा कि तेजस्वी में जरूर कुछ गुण होगा जिसकी वजह से कई साल से विधायक रहे सुरेंद्र यादव ने भी उन्हें अपना नेता मान लिया है।

यह भी पढ़ें: लालू ने ट्वीट कर पीएम पर बोला हमला, कहा - गरीबों के पेट की आंतें निकाल ली...

बुलो मंडल ने भी की थी CM बनाने की मांग

बता दें कि ये कोई पहली बार नहीं है कि आरजेडी खेमे से तेजस्वी को सीएम बनाने की मांग उठी हो। इससे पहले भी भागलपुर से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के सांसद शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल ने कहा था कि परिवर्तन प्रकृति का नियम है। नीतीश कुमार ने लालू यादव का स्थान लिया था। अब तेजस्वी यादव नीतीश कुमार का स्थान लेंगे।

मंडल ने कहा था कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस बात का बुरा नहीं मानना चाहिए। साथ ही मंडल ने दावा किया था कि तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनाए जाने की दिशा में काम शुरू हो गया है। इसका नतीजा जल्द ही देखने को मिलेगा।

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस