पटना, जेएनएन। राजद सुप्रीमो लालू यादव के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव आजकल अपने परिवार और पार्टी से नाराज चल रहे हैं। उन्होंने बगावत का बिगुल फूंक दिया है। इसी बीच रविवार को बिग बॉस फेम रहीं अर्शी खान उनके आवास पर उनसे मिलने पहुंची।

तेजप्रताप से मुलाकात के बाद अर्शी ने उनके तलाक पर पूछे गए सवाल पर कहा-नो कमेंट्स। उन्होंने कहा कि सबकी अपनी पर्सनल लाइफ होती है और उनकी भी है, मेरी भी है। उन्होंने कहा कि तेजप्रताप यादव मेरे दोस्त हैं और इस नाते मैं उन्हें राजनीति में सहयोग करुंगी।

बिहार में चुनाव की सभा करने के लिए पूछे जाने पर अर्शी बोलीं कि फिलहाल वह पांच सालों तक कोई प्रचार नहीं करेगी, लेकिन सहयोग जरूर करेगी। तेज प्रताप ने मुलाकात के बाद अर्शी को श्रीमद्भागवत गीता गिफ्ट किया। तेज प्रताप का गिफ्ट मिलने के बाद अर्शी काफी खुश नजर आ रही थी। 

ये भी पढ़ें- एक और मुलाकात में बन गई बात ! BJP के लिए चुनाव प्रचार कर सकती हैं सपना चौधरी

बता दें कि तेजप्रताप ने अपने परिवार और अपने पार्टी के खिलाफ वे जहानाबाद से और शिवहर से अपने उम्मीदवारों को चुनाव में खड़ा करने का मोर्चा खोल दिया है। इसका कारण है कि पार्टी में इन दिनों वे अपने पार्टी से अलग-थलग हो गये है। 

डैमेज कंट्रोल में जुटा राजद

दो सीटों को लेकर विधायक तेजप्रताप यादव की नाराजगी सामने आने के बाद राजद डैमेज कंट्रोल में जुट गया है। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने तेजप्रताप से रविवार को कई बार बात की। पार्टी के बड़े नेता भी जहानाबाद से तेजप्रताप यादव के उम्मीदवार चन्द्र प्रकाश के पिता चंद्रिका यादव से बात की। जानकारी के अनुसार हालांकि अब तक समस्या का समाधान नहीं हो सका है। तेजप्रताप अपने स्टैंड पर कायम हैं। 

राबड़ी देवी ने बेटे को मनाने की कोशिश की 

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव तो रविवार को चुनावी प्रचार में निकल गये, लेकिन राबड़ी देवी ने बेटे तेजप्रताप यादव से बात कर उन्हें मनाने का प्रयास किया। उन्होंने जहानाबाद से राजद उम्मीदवार के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी देने के फैसले को वापस लेने को कहा। साथ ही दूसरे नेताओं ने चन्द्र प्रकाश को अगली बार टिकट दिलाने का की बात कही, लेकिन बात नहीं बनी। 

ये भी पढ़ें- लालू-राबड़ी को शिवानंद ने दी सलाह- तेजप्रताप का मसला सुलझाएं, हो रही है जगहंसाई

उधर, चन्द्र प्रकाश ने बताया कि वह दो अप्रैल को जहानाबाद में प्रेस कान्फ्रेंस कर अपनी उम्मीदवारी घोषित करेंगे। उनके नेता तेजप्रताप ने उन्हें फैसले पर अडिग रहने का संदेश दिया है। साथ ही उन्हें यह भी आश्वास्त किया है कि संभव है पार्टी जहानाबाद से उम्मीदवार बदलने पर विचार करे।

उधर, तेजप्रताप रविवार को दिनभर अपने आवास पर ही रहे। वह मीडिया के सामने भी नहीं आये।  शाम में उन्होंने महुआ से आये कार्यकर्ताओं से बात की। 

उल्लेखनीय है कि तेजप्रताप ने जहानाबाद से पार्टी उम्मीदवार के खिलाफ चन्द्र प्रकाश को निर्दलीय लड़ाने की घोषणा शनिवार को की थी। उन्होंने शिवहर से भी अंगेश कुमार को लड़ाने की बात कही थी। शिवहर से पार्टी ने अब तक उम्मीदवार नहीं घोषित किया है। लिहाजा उन्होंने उम्मीद जताई थी कि उनके कैंडिडेट को ही पार्टी तवज्जो देगी। 

चुनाव की विस्तृत जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप