Move to Jagran APP

Muzaffarpur News: शव मिलने के पांच दिन पहले हुई थी महिला की मौत, जानवरों ने नोंच डाला था शव

मुजफ्फरपुर-पटना निर्माणाधीन फोरलेन किनारे रविवार को बोरे में बंद महिला का शव मिला था। अब तक उस महिला की पहचान नहीं हो पाई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से यह जानकारी मिलती है कि तीन से पांच दिन पहले महिला की मौत हुई है। इसके अलावा शव को जानवरों के द्वारा नोंच-नोंचकर खाने का मामला भी सामने आया है। डॉक्टर ने कहा कि शरीर पर जानवरों के नोंचने के निशान मिले हैं।

By Sanjiv Kumar Edited By: Mukul Kumar Wed, 10 Jul 2024 10:37 PM (IST)
Muzaffarpur News: शव मिलने के पांच दिन पहले हुई थी महिला की मौत, जानवरों ने नोंच डाला था शव
प्रस्तुति के लिए इस्तेमाल की गई तस्वीर

जागरण संवाददाता, मुजफ्फरपुर। Bihar Crime News मुजफ्फरपुर सदर थाना क्षेत्र के मधुबनी गांव स्थित मुजफ्फरपुर-पटना निर्माणाधीन फोरलेन किनारे रविवार को बोरे में बंद मिली महिला की शव की चौथे दिन भी पहचान नहीं हो सकी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पता चला है कि तीन से पांच दिन पहले महिला की मौत हुई है।

शव को जानवरों के द्वारा नोंच-नोंचकर खाने की भी बात सामने आई है। एमएमटी विभाग के चिकित्सक डॉ. विश्वज्योति ने बताया कि मुंह व पेट पर जानवरों के नोंचने के निशान मिले हैं। पेट पर नोंचने के कारण आंत बाहर आ गया था। शव पूरी तरह से सड़-गल गया था। पेट पर लाल धब्बे का निशान मिला है।

लंग्स पूरी तरह से गल गया था। पोस्टमार्टम के चिकित्सकों की मानें तो इससे यह संकेत करता है कि जहरीला पदार्थ से महिला की मौत हुई है। इसके लिए महिला के बेसरा को सुरक्षित रखा गया है। चिकित्सक की टीम महिला के साथ दुष्कर्म के बिंदु पर भी जांच कर रही है।

सरकारी नियम के तहत दाह संस्कार नहीं किया जा सका

दूसरी ओर, नियमानुसार 72 घंटों तक शव की पहचान नहीं होने के बाद भी पुलिस के द्वारा सरकारी नियम के तहत दाह संस्कार नहीं किया जा सका है। महिला के कपड़े और तस्वीर को रखा जाएगा, ताकि बाद में पहचान हो सके। बुधवार को भी पोस्टमार्टम हाउस में महिला का शव रखा ही था।

विदित हो कि सदर थाना क्षेत्र के मधुबनी गांव स्थित रविवार को मुजफ्फरपुर-पटना निर्माणाधीन फोरलेन किनारे बोरे में बंद महिला का शव मिला था। पुलिस की प्रारंभिक जांच में दूसरी जगह हत्या कर शव को बोरे में बंद कर इस इलाके में फेंके जाने की बात सामने आई थी।

सदर थानाध्यक्ष अस्मित कुमार ने बताया कि पहचान के लिए आसपास के कई जिलों की पुलिस से संपर्क किया गया है। अभी तक पहचान नहीं हुई है। नियमानुसार दाह संस्कार की कवायद की जाएगी।

यह भी पढ़ें-

Patna News: एक छत के नीचे होंगे जिला प्रशासन के सभी कार्यालय, सितंबर मध्य तक हो जाएगा तैयार, मिलेंगी ये सुविधाएं

Ara News: आरा जेल में अचानक हुई छापामारी, कैदियों के बीच मचा हड़कंप; दो फोन बरामद