पश्चिम चंपारण, जेएनएन। वाल्मीकिनगर के जदयू सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो को गमगीन माहौल में शनिवार शाम अंतिम विदाई दी गई।  बड़े पुत्र राजेश कुशवाहा उर्फ रामाकांत कुशवाहा ने मुखाग्नि दी गई। इस दौरान काफी संख्या में लोग मौजूद रहे। इससे पूर्व शाम चार बजे सांसद का पार्थिव शरीर उनके पैतृक गांव नौतन प्रखंड के बहोरनपुर पहुंचा। तिरंगे में लिपटे पार्थिव शरीर को देखकर गांव के लोग रोने लगे।

 पार्थिव शरीर के साथ पटना से ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार, जिले के प्रभारी मंत्री मदन सहनी, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री फिरोज आलम समेत कई नेता पहुंचे। वहां पहले से डीएम कुंदन कुमार, एसपी विवेक कुमार समेत जिले के सभी अधिकारी थे। पार्थिव शरीर को सांसद के पैतृक आवास परिसर में रखा गया। जहां अधिकारियों व नेताओं ने पुष्पांजलि अर्पित की। इसके बाद आवास से डेढ़ किमी दूर नवका टोला कर्पूरी चौक के पास ले जाया गया। जहां आवासीय परिसर में  अंतिम संस्कार किया गया।  सांसद के बड़े पुत्र राजेश कुशवाहा उर्फ रामाकांत कुशवाहा ने मुखाग्नि दी। 

50 हजार से अधिक लोगों की भीड़ 

सांसद का अंतिम दर्शन एवं दाह संस्कार के मौके पर पचास हजार से अधिक लोगों की भीड़ रही। महिलाओं की संख्या देख सभी भौंचक थे। महिला सशक्तिकरण एवं महिलाओं के उत्थान के लिए किए गए उनके कार्यों का परिणाम है कि नौतन ही नहीं,बगहा, मैनाटांड़, रामनगर, सिकटा आदि से हजारों की संख्या में महिलाएं पहुंची थीं। 

बोले मंत्री 

ग्रामीण विकास मंत्री श्रवण कुमार ने कहा कि बैद्यनाथ प्रसाद महतो जदयू के संस्थापकों सदस्यों में से एक थे। चंपारण के एक कद्दावर राजनीतिज्ञ का असमय साथ छोड़ कर जाना काफी मर्माहत किया है। 

 बेतिया प्रभारी मंत्री मदन सहनी ने बताया कि सदैव एक बड़े भाई की तरह साथ दिया। असमय साथ छोड़ कर चले गए। जदयू को अपूरणीय क्षति हुई है। चंपारण के लिए विकास पुरूष थे। 

 मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज आलम विकास को सदैव प्रमुखता देने वाले बड़े भाई सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो का असमय निधन मेरे लिए व्यक्तिगत क्षति है। इसकी भरपाई संभव नहीं है। 

 भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने कहा कि जिले के विकास के लिए सदैव तत्पर रहने वाले सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो के असमय निधन से संपूर्ण जिला शोक में डूबा है। जिले के लिए अपूरणीय क्षति है।

यह भी पढ़ें: 

बिहार के JDU सांसद बैद्यनाथ प्रसाद महतो का निधन, नीतीश बोले- हमने जुझारू नेता खो दिया

स्‍मृति शेष: कर्पूरी के विचारों से प्रभावित थे सांसद बैद्यनाथ महतो, हर साल कराते थे गरीब लड़कियों की दहेजमुक्त शादी

Edited By: Murari Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट