Move to Jagran APP

Bihar Crime News: Bhagalpur DM के फर्जी फेसबुक अकाउंट से 20 हजार की ठगी, सीआरपीएफ जवान बनकर लगाया चूना

Bihar Crime News भागलपुर डीएम का फर्जी सोशल मीडिया अकाउंट बनाकर 20 हजार रुपये की ठगी करने का मामला सुर्खियों में आया है। पीड़ित को छह जुलाई को इस संबंध में एक मैसेज प्राप्त हुआ था। इसमें शातिर ने खुद को सीआरपीएफ का जवान बताया था। मैसेज के बाद कॉल आया इस दौरान सामान भेजने के नाम पर पैसों की मांग की गई। ऐसे में पीड़ित जाल में फंस गया।

By Jagran News Edited By: Mukul Kumar Tue, 09 Jul 2024 05:34 PM (IST)
प्रस्तुति के लिए इस्तेमाल की गई तस्वीर

जागरण संवाददाता, गोपालगंज। जिले के बैकुंठपुर थाना क्षेत्र के दिघवा दुबौली निवासी एक व्यक्ति से भागलपुर के जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी की फर्जी फेसबुक आइडी बनाकर 20 हजार रुपये की साइबर ठगी कर ली गई है। मामले में पीड़ित संजय कुमार पांडेय ने गोपालगंज साइबर थाने में प्राथमिकी कराई है।

प्राथमिकी में बताया गया है कि छह जुलाई की सुबह गोपालगंज के पूर्व जिलाधिकारी व वर्तमान में भागलपुर के जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी की फेसबुक आइडी से मैसेज बाक्स में एक संदेश प्राप्त हुआ। इसमें संतोष कुमार नाम के सीआरपीएफ अफसर के कॉल आने की बात कही गई।

मैसेज पढ़ने की कुछ ही देर बाद संतोष कुमार नाम के एक व्यक्ति ने अज्ञात मोबाइल नंबर से उनके मोबाइल पर कॉल किया। खुद को पटना सीआरपीएफ का कमांडेंट बताते हुए फोन पर बातचीत की। कथित सीआरपीएफ कमांडेंट ने जम्मू कश्मीर में स्थानांतरण होने के बाद इलेक्ट्रानिक सामान व फर्नीचर बेचने की बात कही।

साथ ही अपने प्रबंधन से सभी सामान को भिजवा देने की बात भी कही। इलेक्ट्रानिक सामान व फर्नीचर भेजने के लिए 20 हजार रुपये की मांग संजय से की गई। मुन्नी देवी के फोन पे पर 20 हजार रुपये सीआरपीएफ कमांडेंट के कहने पर भेज दिया गया।

इसके बाद संजय की ओर से भागलपुर के जिलाधिकारी डॉ. नवल किशोर चौधरी से दूरभाष पर बातचीत की गई। इसमें उन्होंने उस व्यक्ति को अनजान बताया।

पीड़ित की ओर से साइबर क्राइम कंट्रोल हेल्पलाइन नंबर 1930 पर साइबर ठगी का शिकार होने की जानकारी देते हुए लिखित शिकायत देकर की साइबर थाने में प्राथमिकी कराई गई है। शिकायत के आधार पर प्राथमिकी कर लेने के बाद साइबर थाने की पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।

पिछले माह डीएम का व्हाट्सएप अकाउंट हुआ था हैक

साइबर अपराधियों ने गोपालगंज के जिलाधिकारी मो. मकसूद आलम के व्हाट्सएप अकाउंट को बीते 17 जून को हैक कर लिया था। इस मामले में गोपनीय शाखा गोपालगंज में कार्यरत मुकेश कुमार वर्मा ने साइबर थाना गोपालगंज में प्राथमिकी कराई थी।

इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि अज्ञात साइबर अपराधियों की ओर से डीएम के सरकारी नंबर पर चल रहे व्हाट्सएप को हैक कर लिया गया था। इससे संदेश प्राप्त करने तथा भेजने में कठिनाई हो रही थी। इसकी प्राथमिकी साइबर थाना में कराई गई थी।

यह भी पढ़ें-

Nalanda Road Accident: Hyva से टक्‍कर के बाद ट्रक में लगी आग, खलासी समेत दो की मौत; चालक की हालत गंभीर

Bihar News: पूर्व मंत्री की यौन शोषण के मामले में बढ़ी मुश्किलें, स्‍पेशल पॉक्‍सो कोर्ट ने जारी किया वारंट