PreviousNext

पर्यावरण संकट से मिलकर लड़े

Publish Date:Sat, 02 Feb 2013 09:01 PM (IST) | Updated Date:Sat, 02 Feb 2013 09:02 PM (IST)

भदोही : श्री इंद्र बहादुर सिंह नेशनल इंटर कालेज में शनिवार को पर्यावरण संरक्षण गोष्ठी का आयोजन किया गया। इस मौके पर तेजी से बिगड़ रहे पर्यावरण संतुलन पर चिंता जताई गई। वक्ताओं ने कहा कि लोगों को मिलकर पर्यावरण संकट से लड़ना होगा।

मुख्य अतिथि टीडी कालेज (जौनपुर) के प्रोफेसर डीपी उपाध्याय ने कहा कि पर्यावरण पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। अमेरिका व इंग्लैंड जैसे देश भी पर्यावरण सरंक्षण को आवाज बुलंद कर रहे हैं। हालांकि पर्यावरण को सर्वाधिक नुकसान भी इन्हीं देशों ने पहुंचाया है। बताया कि पृथ्वी के वायुमंडल में आक्सीजन व कार्बनडाई आक्साइड गैस है, जो एक दूसरे के विपरीत है। इन्हीं से मानव जीवन संरक्षित है जबकि पृथ्वी से 25 से 50 किलोमीटर की दूरी ओजोन परत है। बताया कि वर्ष 1930 में अमेरिका के एक इंजीनियर ने सीएफसी क्लोरो-फ्लोरो कार्बन गैस का निर्माण कर ओजोन परत को व्यापक हानि पहुंचाई। ओजोन परत सूर्य से निकलने वाली जहरीली गैसों से मानव जीवन की रक्षा करता है। कहा कि यह परत क्षतिग्रस्त हो जाएगी तो मानव चर्म रोग, कैंसर सहित कई गंभीर रोगों की चपेट में आकर आस्तित्व खो देगा। इसलिए लोगों को मिलकर पर्यावरण संकट से लड़ना होगा। इस मौके पर विद्यालय के अध्यक्ष डॉ. अरुण कुमार सिंह, प्रधानाचार्य डॉ. अनुराग मिश्र ने बच्चों से पौधरोपण का आह्वान किया। गोष्ठी में स्कूल के शिक्षकगण व सैकड़ों छात्र मौजूद थे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    जांच पर सभासद हुए दो फाड़पर्यावरण संरक्षण के प्रति किया जागरूक
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें