PreviousNext

पंडित रवि शंकर को मरणोपरांत लाइफ टाइम ग्रैमी अवार्ड

Publish Date:Sun, 10 Feb 2013 06:48 PM (IST) | Updated Date:Mon, 11 Feb 2013 10:19 AM (IST)
पंडित रवि शंकर को मरणोपरांत लाइफ टाइम ग्रैमी अवार्ड
लॉस एंजिलिस। प्रख्यात सितारवादक पंडित रविशंकर को मरणोपरांत लाइफटाइम अचीवमेंट ग्रैमी अवार्ड से सम्मानित किया गया है। शनिवार को विलशेयर ईबेल थिएटर में आयोजित प्री ग्रैमी समारोह में य

लॉस एंजिलिस। प्रख्यात सितारवादक पंडित रविशंकर को मरणोपरांत लाइफटाइम अचीवमेंट ग्रैमी अवार्ड से सम्मानित किया गया है। शनिवार को विलशेयर ईबेल थिएटर में आयोजित प्री ग्रैमी समारोह में यह सम्मान उनकी दोनों बेटियों अनुष्का शंकर और नोहरा जोंस ने ग्रहण किया किया। गौरतलब है कि रवि शंकर का 92 साल की उम्र में पिछले साल दिसंबर में निधन हो गया था।

उनकी बेटियों ने भी संगीत की दुनिया में खासा नाम कमा लिया है। अनुष्का शंकर जहां स्वंय एक नामचीन सितारवादक हैं, वहीं नोहरा ने भी गायक और गीतकार के रूप में अपनी जगह बना ली है। पुरस्कार ग्रहण करते हुए नौ बार की ग्रेमी पुरस्कार विजेता 33 वर्षीय नोहरा ने कहा, 'हम उन्हें बहुत याद करते हैं। वह ग्रेमी का लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड ग्रहण करने को लेकर खासे उत्साहित थे। संगीत उनकी जिंदगी थी। हम उनके स्थान पर यह पुरस्कार हासिल करके बहुत खुश हैं।' 31 वर्षीय अनुष्का ने कहा, 'साठ दिन पहले वह हमें छोड़ कर चले गए। इस मंच से उनके स्थान पर पुरस्कार ग्रहण करना वाकई काफी मुश्किल है। मुझे इस बात की खुशी है कि मेरे पिता को मौत से पहले इस बात की जानकारी थी कि उन्हें लाइफटाइम अचीवमेंट ग्रेमी पुरस्कार के लिए चुना गया है।'

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
Web Title:Grammys pay tribute to Pandit Ravi Shankar(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

कमेंट करें

अफजल फांसी मामला-यासिन मलिक के मंच पर दिखा हाफिज सईदनाटो सेनाओं की अफगानिस्तान से घर वापसी शुरू
अपनी प्रतिक्रिया दें
  • लॉग इन करें
अपनी भाषा चुनें




Characters remaining

Captcha:

+ =


आपकी प्रतिक्रिया
    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें