PreviousNextPreviousNext

फसाद की जड़ तो यही 'माननीय' हैं

Publish Date:Wed, 05 Mar 2014 09:47 AM (IST) | Updated Date:Wed, 05 Mar 2014 10:06 AM (IST)
फसाद की जड़ तो यही 'माननीय' हैं

कानपुर [प्रवीन शर्मा]। 'अंधेर है भाई अंधेर' जब सरकार हमारी है तो लाठी भी हमारे साथ है। हम तो खुद भी मारेंगे और खाकी से भी पिटवाएंगे। कोई हमारा क्या बिगाड़ सकता है। कुछ यही संकेत दे रहा है यह फोटो जिसमें सपा विधायक इरफान सोलंकी न सिर्फ मेडिकल कालेज के छात्र का गला घोंट रहे हैं बल्कि कानून का भी।

कानून को चाहिए साक्ष्य

अधिकांश फैसले साक्ष्यों के आधार पर ही सुनाये जाते हैं लेकिन यहां तो जंगलराज जैसी स्थिति बनी हुई है। खुद ही अदालत बन बैठे हैं और खुद ही जज। इस सच को झूठ का मुलम्मा पहनाने के लिए हमारा शासन-प्रशासन पूरी ताकत झोंके हुआ है। शुक्रवार का दिन कानपुर के लिए ब्लैक फ्राइडे रहा। हैलट अस्पताल के सामने गलत दिशा से लाव-लश्कर लेकर घुसे सपा विधायक इरफान सोलंकी की गाड़ी के दरवाजे से मेडिकल कालेज के छात्र की बाइक टकरा गई। महंगी गाड़ी से उतरे गनर ने बाइक पर मौजूद दोनों छात्रों को पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। इस बीच विधायक भी उतरे और एक छात्र का गला दबाना शुरू कर दिया जबकि दूसरा छूटकर कैंपस में भाग गया था। यहीं से घटना की शुरुआत हुई थी।

अब सवाल यह खड़ा होता है कि क्या मेडिकल कालेज के छात्र ही अकेले दोषी हैं। गला दबाकर मारने की कोशिश में क्या विधायक पर हत्या के प्रयास का मुकदमा नहीं होना चाहिए? इसके बाद कैंपस में घुसकर छात्रों पर लाठियां भांजने वाले भी दोषी नहीं हैं। अगर नहीं तो फिर छात्रों को ही अपराधी क्यों बनाया गया जबकि झगड़े की शुरुआत गनर और विधायक की ओर से हुई।

कहां है बुजुर्ग

झगड़े के बाद सपा विधायक का बयान था कि छात्र एक बुजुर्ग को पीट रहे थे और ऐसा करने से मना करने पर छात्रों ने उन पर हमला बोल दिया। अगर यह सच भी मान लिया जाये तो वादी की भूमिका बुजुर्ग की होनी चाहिए। बुजुर्ग कहां है। पुलिस के एक बड़े अफसर ने कहा कि बुजुर्ग की पच्ी लगातार संपर्क में है, तो फिर उसे खड़ा क्यों नहीं किया जा रहा?

किस डाक्टर ने लगाये खरोच पर टांके

मुकदमा कायम कराने के लिए जो मेडिकल रिपोर्ट थाने में दाखिल की गई है उसमें सपा विधायक इरफान सोलंकी को सिर्फ खरोच दिखाई गई है ऐसे में खरोच पर टांके किस डाक्टर ने लगा दिये। तो क्या विधायक झूठ बोल रहे हैं? क्या पुलिस की विवेचक ने इसकी सच्चाई जानने की कोशिश की।

पढ़ें: डाक्टरों से मारपीट पर आइएमए का यूपी सरकार को अल्टीमेटम

मैंने जताई नाराजगी

कैंपस में बिना अनुमति के घुसना और छात्रों के साथ प्राचार्य और प्रोफेसर के साथ मारपीट करने के मुद्दे पर डीएम ने कहा कि उन्होंने एसएसपी से नाराजगी जताई थी कि प्राचार्य से किसने मारपीट की। बावजूद इसके न तो छात्रों और न ही प्राचार्य की ओर से मुकदमा कायम कराया गया। डीएम कहती हैं कि कोई तहरीर दे तो विधायक पर मुकदमा कायम करेंगे जबकि प्राचार्य का दावा है कि वह तहरीर दे चुके हैं।

पुलिस ने दिया नोटिस

सपा विधायक से हुई मारपीट के मामले में पुलिस ने मेडिकल कालेज के तीन जूनियर डाक्टरों की पहचान का दावा किया है। एसपी पश्चिम ने प्राचार्य के माध्यम से तीनों को स्वरूपनगर सीओ के सामने पेश होने का नोटिस भेजा है। सीसीटीवी फुटेज में संदिग्ध मिलने वालों की पहचान कराई गई। एसपी पश्चिम के मुताबिक डा.सचिन अवस्थी, डा.संजय कुमार, डा. प्रशांत त्रिपाठी का नाम सामने आ रहा है।

ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए क्लिक करें m.jagran.com परया

कमेंट करें

Tags: # doctors strike , # mla , # medical students , # irfan solanki , # kanpur medical college , # IMA ,

Web Title:mla creates main problem

(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

2 जून को अस्तित्व में आ जाएगा तेलंगानाशीला को मिला वफादारी का इनाम, अब होंगी केरल की महामहिम

 

अपनी भाषा चुनें
English Hindi
Characters remaining


लॉग इन करें

यानिम्न जानकारी पूर्ण करें

Name:
Email:

Word Verification:* Type the characters you see in the picture below

 

  • Suresh Mishra | Updated Date:06 Mar 2014, 08:02:22 AM

    is sarkar me sirf gundaraj hi calta hai ye sarkar gundo ki hai ab to garib logo ka jina muskil ho gaya hai kendra sarkar ko exaction lena chahiye

  • Dhiraj Vardhan | Updated Date:05 Mar 2014, 06:06:35 PM

    JANGALRAJ KA EK AUR NAMUNA

  • om Prakash Upadhyay | Updated Date:05 Mar 2014, 05:54:27 PM

    sab milakar chhatra ek aisaa shabd hai jo is desh kaa hee nahee vishv kaa bhavishya aur dharohar hai hame galatee se bhee kisee vidvaan ke saath is tarah kaa salluk nahee karanaa chaahiye ghor nindaa honee chaahiye.

  • sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 04:44:44 PM

    किसी ने सच ही कहा है कि जब सैंया भए कोतवाल तो डर काहे का...ये तस्वीर खु् बयां कर रही है पूरी कहानी ये वो शख्स है जिसे हमने चुना है लेकिन ये हमारा काम करने की बजाय हमारा काम तमाम कर रहा है।

  • divya | Updated Date:05 Mar 2014, 04:43:52 PM

    एक विधायाक को ये शोभा नहीं देता कि किसी पोफेशनल को इस तरह से पीटे भी और पुलिस का काम तो सड़क पर ताली मार कर पैसे मांगने वालों से भी ज्यादा शरमिंदगी वाला था..लानत है ऐसी वर्दी वाले तथाकथित चाट्टुकार अधिकारी की जिसने तलवे चाटने के लिए ये घिनौनी हरकत की है।

  • anshu | Updated Date:05 Mar 2014, 04:42:39 PM

    ऐसे ही पुलिस वाले किसी के इशारे पर या फिर चांदी का जूता खा कर फर्जी एंकाउंटंर करने से भी नहीं हिचकते है चाहे किसी के घर का चिराग बुझे तो ऐसे लोगों को क्या फर्क पड़ता है।

  • sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 04:41:37 PM

    किसी ने सच ही कहा है कि जब सैंया भए कोतवाल तो डर काहे का...ये तस्वीर खु् बयां कर रही है पूरी कहानी ये वो शख्स है जिसे हमने चुना है लेकिन ये हमारा काम करने की बजाय हमारा काम तमाम कर रहा है।

  • Vishal | Updated Date:05 Mar 2014, 04:29:59 PM

    UP janta voted for a Gunda sarkar in name of SECUULAARism...this is what their secularism is, now enjoy...this is what you voted for...because of UP whole country would face this after election..danga, gundagardi on tolls, all intellectuals beaten up...

  • kamlesh | Updated Date:05 Mar 2014, 03:38:41 PM

    ye mera india i love india mera desh bidamno k daor gujraha hain up ka sarkar ............. marbane k siva koch nahi kar raha hain

  • sumit | Updated Date:05 Mar 2014, 02:18:18 PM

    अमित मिश्रा झूट मत बोल. कल टीवी पे साबित हो गया था की तेरे प्यारे इरफ़ान सोलंकी को कोई टाँके नहीं आये थे. ये सिर्फ गुंडा गर्दी थी .

  • kamlesh | Updated Date:05 Mar 2014, 02:08:26 PM

    sapa ka mukhiya brasat hain to bidhayak chur badmas to aayega hi

  • amit mishra | Updated Date:05 Mar 2014, 02:01:17 PM

    this picture is half true . You can see behind a advertisement board being hit on the mla's head by other students due to which he got stitches on his head. I am from kanpur and i have seen pictures of two of the his cars being overturned by doctors petrol being poured over them to burn them. This all has been caught on cctv also.

  • vdsharma | Updated Date:05 Mar 2014, 01:43:22 PM

    why police became very active they themselves broke the law by entering the campus and beating students and some senior doctor, who gave them such rights is not gundagardi, why this bloody MLA and his gunner were arrested, UP govt. must take action

  • test | Updated Date:05 Mar 2014, 01:26:14 PM

    Chauhan, MLA saaheb ko aisa nahi karna chahiye, agar doctor ki two wheel unkai gaadi se takra gayee to itna serious nahi hona chahiye. lekin is tarah ka aacharan nindaneey hai. agar unko panga lena hai to UP mein bahut log hai jo unki gaadi bhi todege aur ichchha bhi puri karenge. Doctor to ek saant aur jeevandayee kaam karta hai. Shame MLA

  • vikas | Updated Date:05 Mar 2014, 01:17:58 PM

    is khabar aur photo ko news paper me kyun nahi chapa

  • Sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 12:58:55 PM

    Bhai Sahab agar wo samajwadi party ke hai or specially muslim hai to wo jo chahe wo kar sakte hai kya..??....

  • Sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 12:58:51 PM

    Bhai Sahab agar wo samajwadi party ke hai or specially muslim hai to wo jo chahe wo kar sakte hai kya..??....

  • Sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 12:58:50 PM

    Bhai Sahab agar wo samajwadi party ke hai or specially muslim hai to wo jo chahe wo kar sakte hai kya..??....

  • Sunny | Updated Date:05 Mar 2014, 12:58:49 PM

    Bhai Sahab agar wo samajwadi party ke hai or specially muslim hai to wo jo chahe wo kar sakte hai kya..??....

  • aditya | Updated Date:05 Mar 2014, 12:58:27 PM

    After this column, The open truth is In front of everyone's eye. Mr. MLA Irfan Solanki and SSP Yashashvi was on a news channel yesterday , After listening Their answers , I have some question in My Mind. My request to news paper to help us for Answers of this questions : 1. Have #SSP inquired and seen all the facts before entering in college campus? 2. SSP is saying, The charges will be taken out , if it will find false in inquiry. Then MR. SSP what was the hurry to beat doctors, to book doctors. 3. SSP is saying, This is not his job to check injury of MLA, I am agree but it is your responsibility SSP sahab to cross check facts before filling case in such criminal charges on Doctors. 4.SSP is saying, He will take action against MLA in someone will give complain. Provoking supporters for riots is crime, Take a sou moto cation. 5. My last point is not a qus but advice to UP Gov and MLA " Sir Lok Sabha ki adhisuchna aa gyi hai " Janta se sarkar hai,Sarkar se Janta Nahi.

  • sumit | Updated Date:05 Mar 2014, 11:49:15 AM

    GUNDA KAHIN KA ... PADE LIKHE ADMI KI KOI KADRA NAHI HAI IS SARKAAR ME

  • Amit | Updated Date:05 Mar 2014, 11:42:28 AM

    Mulayam Singh se Bada Kutta Aaaj Tak nahi Dekha.

  • test | Updated Date:05 Mar 2014, 10:59:24 AM

    ये विबाद सिर्फ इस्लिये बड रहा है कि इर्फान सोलन्की समाज बादी पार्टी के विधायक है और एक मुसल्मान

वीडियो

स्थानीय

    यह भी देखें
    Close
    यूपी में चरमरा गईं स्वास्थ्य सेवाएं
    हाईकोर्ट का कानपुर के एसएसपी को हटाने का आदेश, हड़ताल वापस लेने की अपील
    हड़तालियों को नहीं मना सके सरकार के दूत