पर्यावरण दूत का काम कर रहे हैं दिल्ली के बच्चे

Publish Date:Tue, 12 Feb 2013 10:25 PM (IST) | Updated Date:Wed, 13 Feb 2013 08:13 AM (IST)

राज्य ब्यूरो, नई दिल्ली :

दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का कहना है कि दिल्ली की तस्वीर बदलने में राजधानी के बच्चों ने रचनात्मक भूमिका निभाई है। यह गर्व की बात है कि बच्चों की पहल पर दिल्ली में पिछले 14 सालों में हरित क्षेत्र में काफी इजाफा हुआ है। दिल्ली के बच्चे पर्यावरण दूत के रूप में काम कर रहे हैं। दीक्षित तालकटोरा स्टेडियम में सरकार के पर्यावरण विभाग द्वारा आयोजित 12वें इको-क्लब मीट के उद्घाटन के अवसर पर बोल रही थीं। इस अवसर पर दिल्ली के मुख्य सचिव दीपक मोहन स्पोलिया, पर्यावरण विभाग के सचिव संजीव कुमार के ही बड़ी संख्या में स्कूली बच्चे मौजूद थे।

दो दिन तक चलने वाले इस इको-मीट में बच्चों द्वारा पर्यावरण से संबंधित प्रदर्शनी लगाई गई है। दीक्षित ने कहा कि दिल्ली के पर्यावरण को और बेहतर बनाने के लिए यह जरूरी हो गया है कि हम अधिक से अधिक पौधे लगाएं, लेकिन यह तभी संभव होगा जब इसमें सभी का सहयोग मिले। मुख्यमंत्री ने इस बात पर खेद जताया कि निर्माण कार्यो की वजह से पेड़ों को काटना पड़ता है जिससे पर्यावरण का संतुलन बिगड़ता है।

इस मौके पर युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि वे दिल्ली को प्रदूषणमुक्त व और अधिक हरा-भरा बनाने में रचनात्मक भूमिका निभाएं। मुख्यमंत्री ने पर्यावरण विभाग द्वारा आयोजित पोस्टर प्रतियोगिता के विजयी छात्रों को पुरस्कृत भी किया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

मोबाइल पर भी अपनी पसंदीदा खबरें और मैच के Live स्कोर पाने के लिए जाएं m.jagran.com पर
    Web Title:(Hindi news from Dainik Jagran, newsnational Desk)

    कमेंट करें

    यह भी देखें

    संबंधित ख़बरें