सारंधर सिंह को मिला विद्यासागर सम्मान

Mon, 19 Dec 2011 08:52 PM (IST)
सारंधर सिंह को मिला विद्यासागर सम्मान

आचार्य सारंधर सिंह को उनके हिन्दी सेवा, सारस्वत साधना एवं शोध कार्य करने पर उन्हें विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ गांधी नगर द्वारा विद्यासागर सम्मान से सम्मानित किया गया। विक्रमशिला हिन्दी विद्यापीठ के 16 वें वार्षिक महाधिवेशन में हिन्दी विद्यापीठ के कुलपति ने उन्हें यह सम्मान दिया। उल्लेखनीय हो कि शांति नगर गुरुकुल मेहिया निवासी सारंगधर सिंह संस्कृत, हिन्दी एवं भोजपुरी के विद्वान हैं। अनेकता में एकता, प्रयाग गीत व बालगीत उनकी प्रमुख रचनायें हैं। देश के विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं एवं आकाशवाणी से प्रकाशित व्याकरण भाषा विज्ञान पर शोध पूरा लेख लिख चुके है। कई पुस्तक भी लिख चुके है। उन्होंने यह सम्मान मिलने पर लोगों ने बधाई दी है।

जेपीविवि के प्राध्यापक डा. मोहन चौधरी का निधन

जय प्रकाश विश्वविद्यालय के स्नातकोत्तर जन्तु शास्त्र के प्राध्यापक व दूरस्थ शिक्षा के पूर्व निदेशक डा. मोहन चौधरी का रविवार को असामयिक निधन हो गया। श्री चौधरी अपने पीछे धर्मपत्‍‌नी एवं तीन पुत्रियों से भरा पूरा परिवार छोड़ गये हैं। वे कैंसर रोग से पीड़ित थे और पिछले कई माह से बीमार चल रहे थे। उनके निधन की सूचना मिलने पर शिक्षकों में शोक की लहर फैल गयी। बताते चले कि डा. मोहन चौधरी जेपीविवि के दूरस्थ शिक्षा के निदेशक, उप परीक्षा नियंत्रक एवं लोक महाविद्यालय हाफिजपुर के विवि के शिक्षक प्रतिनिधि रह चुके हैं। उन्होंने हमेशा विवि के विभिन्न कार्याें में सक्रिय रहे। हाल ही में हुए एकलव्य प्रतियोगिता के सफल आयोजन में उन्हें सक्रिय भूमिका निभाई थी। श्री चौधरी का पार्थिव शरीर रिविलगंज के सेमरिया घाट पर पहुंचा जहां उनका अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार में जेपी विवि के कुलसचिव डा. तपस्वी प्रसाद कर्मचारी नेता प्रभुनाथ सिंह हरिहर मोहन, पंकज कुमार सिंह सहित विवि के कई पदाधिकारी उपस्थित थे।

निधन पर शोक सभा आयोजित

जय प्रकाश विश्वविद्यालय के जन्तु शास्त्र विभाग के प्राध्यापक डा. मोहन चौधरी के निधन पर सोमवार को विभिन्न विभागों में शोक सभा का आयोजन किया। बिहार विधान परिषद के सदस्य डा. महाचन्द्र प्रसाद सिंह ने श्री चौधरी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि हमने एक कर्मठ साथी खो दिया। स्नातकोत्तर जन्तु शास्त्र विभाग में आयोजित शोक सभा में शिक्षकों ने कहा कि वे जिंदा दिल इंसान थे। शोक व्यक्त करने वालों में विभागाध्यक्ष डा. श्याम नारायण सिंह, डा. रवीन्द्र कुमार सिंह, डा. धु्रव कुमार सिंह, डा. अशोक कुमार सिंह आदि प्रमुख थे। पीजी रसायन शास्त्र विभाग में निधन पर शोक व्यक्त कर दिवंगत आत्मा कि शांति के लिये ईश्वर से प्रार्थना की गई। शोक सभा में डा. एस.एन. विद्यार्थी, डा. उमाशंकर यादव, डा. रवीन्द्र सिंह, डा. एस.के. मिश्रा, उमेश कुमार सिंह, पंकज कुमार, विपिन कुमार एवं नीतीश कुमार आदि उपस्थित थे। राजेन्द्र कालेज में भी शोक सभा का आयोजन किया गया। जिसमें डा. अनिल कुमार सिंह, डा. देवेन्द्र कुमार सिंह सहित शिक्षकेत्तर कर्मचारी उपस्थित थे। राम जयपाल कालेज के प्राचार्य डा. रामश्रेष्ठ राय ने डा. मोहन चौधरी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि हमने एक कर्मयोगी खो दिया। पीसी साइंस कालेज में शिक्षक संघ के सचिव डा. योगेन्द्र प्रसाद यादव एवं स्नातकोत्तर वनस्पति शास्त्र विभाग में प्रो. राजेश्वर प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में शोक सभा का आयोजन किया गया।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए क्लिक करें m.jagran.com परया

कमेंट करें

Web Title:

(Hindi news from Dainik Jagran, newsstate Desk)

यह भी देखें

प्रतिक्रिया दें

English Hindi
Characters remaining


लॉग इन करें

यानिम्न जानकारी पूर्ण करें



Word Verification:* Type the characters you see in the picture below

    स्थानीय

      यह भी देखें
      Close
      अल्पसंख्यकों को मिला सम्मान: आरसीपी
      सारण के दो एथलीटों को पटना में मिला सम्मान
      डा. अनीता को मिला सारस्वत सम्मान