मोस्को, एजेंसी। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को पूर्व अमेरिकी खुफिया एजेंट एडवर्ड स्नोडेन को राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसी (एनएसए) द्वारा गुप्त निगरानी अभियानों की जानकारी देने का इनाम दिया है। रूस ने ऐसा नौ साल बाद उसे रूसी नागरिकता प्रदान की है। 39 वर्षीय स्नोडेन ने गुप्त फाइलों को लीक करने के आरोपों के बीच अमेरिका से भागकर रूस में शरण ली थी।

अब अमेरिका में लौटना मुश्किल

एडवर्ड ने एनएसए द्वारा किए गए विशाल घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय निगरानी कार्यों का खुलासा किया था, जहां उन्होंने काम किया। इसी के चलते अमेरिकी अधिकारी वर्षों से चाहते थे कि वह जासूसी के आरोपों पर आपराधिक मुकदमे का सामना करने के लिए अमेरिका लौट आए। समाचार एजेंसी रायटर्स के अनुसार फिलहाल स्नोडेन की ओर से तत्काल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

पुतिन के एक फरमान पर मिली नागरिकता

बता दें कि इसपर रूसी सरकार का भी बयान नहीं आया है। जानकारी के अनुसार पुतिन के केवल एक फरमान से 72 विदेशी मूल के व्यक्तियों की सूची में नागरिकता प्रदान करने के लिए स्नोडेन का नाम सामने आया है। इसी के साथ स्नोडेन की पत्नी लिंडसे मिल्स भी नागरिकता के लिए आवेदन करेंगी। रूस ने स्नोडेन को 2020 में स्थायी निवास का अधिकार दिया था, जिससे उनके लिए रूसी नागरिकता प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त हो पाया है।

स्नोडेन ने दी थी यह सफाई

स्नोडेन ने खुफिया जानकारी साझा करने पर सफाई देते हुए कहा था कि उन्होंने खुलासा इसलिए किया क्योंकि उनका मानना ​​​​था कि अमेरिकी खुफिया एजेंसी बहुत आगे बढ़ रही थी और नागरिक स्वतंत्रता का उल्लंघन कर रही थी। उन्होंने यह भी कहा है कि उन्हें पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रशासन पर विश्वास नहीं था, जो उस समय कार्यालय में थे जब उन्होंने पत्रकारों को रिकॉर्ड लीक किया था।

यह भी पढ़ें- Russia Ukraine War: रूसी ड्रोन हमले में यूक्रेनी सेना का गोदाम तबाह, जनमत संग्रह के नतीजे से यूक्रेनियों में भय

Edited By: Mahen Khanna

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट