नई दिल्‍ली (आनलाइन डेस्‍क)। पाकिस्‍तान में सरकार के खिलाफ राजनीति इस वक्‍त पूरी त से उफान पर है। इमरान खान की पार्टी पाकिस्‍तान तहरीक ए इंसाफ सरकार के खिलाफ किसी भी मौके को छोड़ना नहीं चाह रही है। पीटीआई के पास अब एक तुरुप का पत्‍ता हाथ लगा है, जिसको लेकर वो शहबाज शरीफ की सरकार पर अधिक हमलावर हो गई है। दरअसल, पीटीआई के नेता और इमरान के पूर्व मंत्री फव्‍वाद चौधरी ने अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट किया है, जिसमें उन्‍होंने एक शख्‍स के ट्वीट को रीट्वीट किया है।

ओडियो क्लिप का खेल

इस ट्वीट में उन्‍होंने एक ओडियो क्लिप को शामिल किया है। ये ओडियो क्लिप कथिततौर पर पीएम शहबाज शरीफ और उनके एक अधिकारी के बीच की बताई गई है। पीटीआई ने आरोप लगाया है कि शहबाज शरीफ किस तरह से अपने रिश्‍तेदारों को खुश करने का काम कर रही है। इस क्लिप के सामने आने के बाद अब पाकिस्‍तान के चैनलों पर इसको लेकर बहस शुरू हो गई है। 

नवाज की बेटी मरियम का जिक्र

इस क्लिप में अधिकारी को पीएम शहबाज शरीफ से ये कहते सुना जा सकता है कि मरियम नवाज शरीफ चाहती हैं कि उनके दामाद राहिल द्वारा लगाए जा रहे पावर प्‍लांट के लिए भारत से मशीनों के आयात की इजाजत दी जाए। अधिकारी को इस क्लिप में शहबाज शरीफ से ये कहते सुना जा सकता है कि यदि ये मामला गुपचुप निपटाया जा सकता तो अलग बात थी, लेकिन ये मसला बड़ा है।

हंगामा होने के आसार 

इजाजत देने से पहले ये मुद्दा ईसीसी और कैबिनेट में लाया जाएगा। इस पर हंगामा होने के पूरे आसार है। ऐसे में ये मुद्दा एक बड़ी समस्‍या बन सकता है। इस पर पीएम शहबाज ये कहते सुनाई दे रहे हैं कि ये मुद्दा आसान नहीं होगा और इससे परेशानी काफी बढ़ जाएगी। इस क्लिप में शहबाज कथिततौर पर ये कहते हुए सुने जा सकते हैं कि वो इस मसले पर खुद मरियम से बात कर उन्‍हें समझाएंगे।

भारत से मशीन इंपोर्ट की इजाजत 

इस क्लिप में अधिकारी ये भी कह रहा है कि जिस जगह पर ये प्‍लांट बनना है वो इत्तिहाद पार्क हाउसिंग सोसायटी की है। इस पर शहबाज कह रहे हैं कि ये सभी कुछ राष्‍ट्र हित में दिखाकर करना होगा। इसमें अधिकारी ये भी कह रहा है कि इस पूरे मसले में पूर्व वित्‍त मंत्री इशाक डार शामिल हैं, जो काफी समझदारी के साथ इसको हैंडल कर रहे हैं। इस क्लिप में नेशनल अकाउंटिबिलिटी ब्‍यूरो के नए चीफ के नाम पर पूर्व न्‍यायधीश मकबूल बाकिर का नाम भी सुनाई दे रहा है। इसमें अधिकारी पीएम शहबाज शरीफ को राय देते हुए सुनाई दे रहा है कि उन्‍हें कुछ पत्रकारों ने कहा है कि मकबूल इस पद के लिए सही नाम नहीं हैं। इससे बेहतर नाम पूर्व न्‍यायधीश जावेद इकबाल हो सकते हैं।

शहबाज शरीफ का ये कहना 

पीएम शहबाज शरीफ इस क्लिप में ये भी कह रहे हैं कि राहिल, मरियम के काफी प्‍यारे हैं इसलिए इस मसले को काफी एहतियात के साथ उन्‍हें समझाना पड़ेगा। इससे बड़ी राजनीतिक समस्‍या खड़ी हो जाएगी। बता दें कि मरियम की बेटी महरुनिसा की शादी देश के बड़े उद्योगपति चौधरी मुनीर के बेटे राहिल से दिसंबर 2015 में हुई थी। इस शादी में पीएम नरेन्‍द्र मोदी ने अचानक पहुंचकर सभी को हैरान कर दिया था।

जब पीएम मोदी हुए थे नवाज की नवासी की शादी में शामिल 

दरअसल, पीएम मोदी उस दौरान अफगानिस्‍तान से वापस लौट रहे थे। तभी तत्‍कालीन पीएम नवाज शरीफ ने फान कर उन्‍हें अपनी नवासी की शादी में आने का न्‍यौता दिया था, जिसको पीएम मोदी टाल नहीं सके थे। इस छोटी सी मुलाकात के राजनीतिक हलकों में काफी बड़े मायने निकाले गए थे।

आखिर किन नियमों के तहत किसी को युद्ध अपराधी किया जा सकता है घोषित, जानें- क्‍या कहता है जिनेवा कंवेंशन का चैप्‍टर 44

 

Edited By: Kamal Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट