कीव, एएनआइ। रूस-यूक्रेन युद्ध (Russia-Ukraine War) के बीच प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को वोलोदिमिर जेलेंस्की (Volodymyr Zelenskyy) से फोन पर बात की। पीएम मोदी से बातचीत के दौरान जेलेंस्की ने कहा कि यूक्रेन रूसी संघ (Russian Federation) के वर्तमान राष्ट्रपति के साथ कोई बातचीत नहीं करेगा। जेलेंस्की ने यूक्रेन की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के लिए भारत के समर्थन के लिए भी प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद दिया। यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने भी पीएम मोदी के हालिया बयान के महत्व पर जोर दिया कि अब युद्ध का समय नहीं है।

वार्ता और कूटनीति के जरिए निकाला जाए जंग का रास्ता

मंगलवार को जेलेंस्की और पुतिन के बीच हुई बातचीत यूक्रेन में चल रहे संघर्ष पर चर्चा हुई। पीएम मोदी ने यूक्रेन के राष्ट्रपति से वार्ता और कूटनीति के जरिए जंग का रास्ता निकालने की बात कही है। उन्होंने जेलेंस्की से शत्रुता को जल्द खत्म करने और बातचीत और कूटनीति के रास्ते पर चलने की जरूरत दोहराई।

पुतिन से किसी भी तरह की बातचीत को नकारा

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की ने राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा परिषद (NSDC) के फैसले को लागू करने के लिए एक आदेश पत्र (Decree) पर हस्ताक्षर किए। यह रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ किसी भी तरह की बातचीत करने से इनकार करता है।

प्रस्ताव तैयार करने का भी निर्देश

जेलेंस्की की वेबसाइट पर मौजूद दस्तावेज के अनुसार यूक्रेन के राष्ट्रीय सुरक्षा और रक्षा परिषद ने पुतिन के साथ उनकी बातचीत को असंभव माना है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार यूक्रेन के राष्ट्रपति ने यूक्रेन की रक्षा क्षमता को बढ़ावा देने के लिए डिजाइन की गई बहु-स्तरीय सुरक्षा गारंटी प्रणाली के निर्माण के लिए प्रस्ताव तैयार करने का भी निर्देश दिया है।

रूस ने कहा, यूक्रेनी राष्ट्रपति के रुख में बदलाव का करेगा इंतजार

क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा है कि कीव के साथ शांति वार्ता फिर से शुरू करने के लिए मॉस्को या तो यूक्रेन के मौजूदा राष्ट्रपति के रुख में बदलाव का इंतजार करेगा। यह बयान यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की द्वारा रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ बातचीत को खारिज करने वाले एक डिक्री पर हस्ताक्षर करने के बाद आया है।

यह भी पढ़ें : Russia Ukraine War: यूक्रेन को सैन्य सहायता के तौर पर और 62.5 करोड़ डालर देगा अमेरिका

यह भी पढ़ें : Elon Musk ने ट्विटर खरीद के मामले में केस वापस लेने के दिए संकेत, डील के लिए 44 बिलियन डॉलर की पेशकश

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट