नाएप्यीडॉ, एएनआइ। म्यामार में सैन्य तख्तापलट के बाद खूनी संघर्ष जारी है। इसी बीच म्यांमार के सैन्य नेता मिन आंग हलिंग ने खुद को प्रधानमंत्री घोषित किया है। रविवार को एक टेलिविजन पर दिए गए संदेश में जनरल मिन आंग हलिंग ने कहा कि वो दो साल के भीतर 2023 तक देश में चुनाव कराए जाने की योजना बना रहे हैं। इस दौरान संकट के राजनीतिक समाधान के लिए दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के साथ सहयोग करेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि हमें स्वतंत्र और निष्पक्ष बहुदलीय चुनाव कराने के लिए स्थितियां बनानी चाहिए। हमें इसकी तैयारी करनी होगी। मैं इस अवधि में बहुदलीय चुनाव कराने का वादा करता हूं।

मिन आंग हलिंग की घोषणा म्यांमार की लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को सैन्य तख्तापलट में उखाड़ फेंकने के छह महीने बाद आई है। पूरे देश में सैन्य शासन के विरोध में आवाजें उठाई जा रही हैं।

बता दें कि म्यांमार की सेना ने फरवरी में अपनी लोकतांत्रिक रूप से चुनी हुई सरकार को उखाड़ फेंका था। सैन्य तख्तापलट करते हुए यह दावा किया गया कि चुनाव धोखाधड़ी से हुआ था।

म्यांमार की अपदस्थ नेता आंग सान सू की की पार्टी ने चुनाव जीता था। उनको गिरफ्तार कर लिया गया। उसके बाद से अवैध रूप से वॉकी-टॉकी रेडियो रखने और कोरोना नियमों का उल्लंघन करने सहित कई अपराधों का उनपर आरोप लगाया गया।