यांगून, एएफपी। म्यांमार के अशांत रखाइन प्रांत में खिलाडि़यों की पोशाक पहने संदिग्ध विद्रोहियों ने रविवार को एक बस पर धावा बोलकर 31 यात्रियों को अगवा कर लिया। अधिकारियों के अनुसार, अगवा किए गए ज्यादातर लोग दमकल कर्मी और निर्माण क्षेत्र में काम करने वाले मजदूर हैं। रखाइन वही प्रांत है जहां अगस्त, 2017 में सेना की बड़ी कार्रवाई के बाद करीब आठ लाख रोहिंग्या मुसलमानों ने भागकर पड़ोसी देश बांग्लादेश में शरण ली थी।

अधिकारियों ने आशंका जताई है कि इस वारदात में विद्रोही संगठन अराकान आर्मी का हाथ हो सकता है। यह संगठन रखाइन के बौद्ध समुदाय के लिए ज्यादा अधिकारों और स्वायत्तता की मांग कर रहा है। संगठन ने अभी इस घटना पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

कर्नल विन जा ओ ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि आम नागरिक सरीखे कपड़े पहने एक विद्रोही ने प्रांतीय राजधानी सितवे जा रही बस को हाथ देकर रुकवाया। बस के रुकते ही खिलाडि़यों की पोशाक पहने 18 विद्रोही जंगल से निकले और हथियार दिखाकर यात्रियों को बस से नीचे उतार लिया।

इस पूरे मामले की छानबीन की जा रही है। गौरतलब है कि इससे पहले भी ऐसी कई घटनाएं हो चुकी हैं। इस पूरे मामले की छानबीन में जुटी पुलिस ने अभी तक किसी भी प्रकार की जानकारी साझा नहीं की है। 

यह भी पढ़ें: PM Modi in Maharashtra: विपक्ष को चैलेंज, कहा- अनुच्छेद 370 वापस लाने का वादा करें

यह भी पढ़ें: Indian Coast Guard के 'राजवीर' ने पकड़ा म्यांमार का संदिग्ध जहाज, सीमा में घुसने की कोशिश

यह भी पढ़ें: मंदी पर दिए गए बयान को रवि शंकर प्रसाद ने लिया वापस, जानें पूरा मामला

यह भी पढ़ें: Kullu Dussehra Fest 2019: कुल्लू दशहरा फेस्टिवल में 4 हजार महिलाओं ने दिया स्वच्छता का संदेश

यह भी पढ़ें: तुर्की की सैन्‍य कार्रवाई में नौ की मौत, मदद को आगे आए ट्रंप, फ्रांस व जर्मनी ने लिया यह ऐक्‍शन

 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप