बीजिंग, एजेंसी। कोविड-19 लॉकडाउन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन बीजिंग तक फैल गया है और चीन में सोमवार को कोरोना वायरस के करीब 40,000 मामले सामने आए। लगातार पांचवें दिन, चीन ने राजधानी बीजिंग में 4,000 के करीब मामले दर्ज किए।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि सोमवार को 39,452 नए मामले सामने आए, जिनमें 36,304 स्थानीय ऐसे मामले शामिल हैं जिनमें कोरोना के लक्ष्ण नहीं पाए गए हैं। इस बीच, सप्ताह के अंत के दौरान शंघाई के पूर्वी महानगर में जो विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ, वह बीजिंग तक फैल गया है जहां सैकड़ों लोग रविवार शाम एकत्रित हुए।

चीन के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुआ तेज

चीन में शी जिनफिंग की सरकार के खिलाफ लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। एक तरफ कोरोना के बढ़ते मामले तो दूसरी ओर जीरो कोविड पॉलिसी की वजह से जबरदस्ती घरों में कैद करके रखे जाने से लोग परेशान हैं। चीन की राजधानी बीजिंग के बाद कई शहरों में विरोध प्रदर्शन तेज हो गए हैं। शंघाई में विरोध तेज होता जा रहा है।

हेल्‍थ कमीशन ने किया जीरो कोविड नीति में बदलाव 

चीन में जीरो कोविड नीति के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों को देखते हुए चीन के नेशनल हैल्‍थ कमीशन ने इस नीति में कुछ बदलाव भी किए हैं। जिनमें क्‍वारंटीन का समय कम करना, प्रतिबंधों में ढिलाई देना भी शामिल है। कमीशन ने 20 बिंदुओं का प्रोग्राम भी जारी किया है। यहां पर ये भी बता दें कि शनिवार को देश में जहां कोरोना के 30 हजार मामले सामने आए थे वहीं रविवार को इनका आंकड़ा बढ़कर 40 हजार तक हो गया।

यह भी पढ़ें- चीन: 'चिनफिंग गद्दी छोड़ो...' की गूंज, सख्त कोविड प्रतिबंधों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन; जानें कैसे हुई शुरुआत

यह भी पढ़ें- चीन में विरोध प्रदर्शन की रिपोर्टिंग करने वाला बीबीसी का पत्रकार गिरफ्तार, की गई पिटाई

Edited By: Babli Kumari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट