वाशिंगटन, आइएएनएस। अमेरिका की ओर से अमेजन में लगी आग को बुझाने के लिए G7 सदस्‍य राष्‍ट्रों की ओर से दी जाने वाली मदद पर असहमति जताई गई है। बता दें कि मदद के तौर पर ब्राजील को 20 मिलियन डॉलर का ऑफर दिया गया।

व्‍हाइट हाउस नेशनल सिक्‍योरिटी काउंसिल के प्रवक्‍ता गैर्रेट मारक्‍वीस ने ट्वीटर पोस्‍ट के जरिए बुधवार को बताया, ‘अमेजन की जंगलों में लगी आग से निपटने के ब्राजील की ओर से किए जा रहे प्रयासों में हम साथ हैं। हम G7 की उस पहल से असहमत हैं जो ब्राजील के राष्‍ट्रपति जैर बोलसोनारो से संपर्क करने में असफल रहा।’

इस शर्त पर ब्राजील लेगा मदद

फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने सोमवार को एलान किया था कि G7 देशों की ओर से 20 डॉलर मिलियन की मदद ब्राजील को दी जाएगी ताकि वह अमेजन की जंगलों में लगी आग से निपट सके। हालांकि बोल्‍सोनारो ने कहा कि वह इस मदद को स्‍वीकार तभी करेंगे जब मैक्रों ब्राजील के नेता को झूठा कहने वाले अपने बयान को वापस लेंगे। इस बीच अमेरिका के राष्‍ट्रपति ट्रंप ने बोल्‍सोनारो के प्रयासों की प्रशंसा की है जो वे आग के संकट से निपटने के लिए कर रहे हैं। ट्रंप ने ट्वीट में बताया, ‘मुझे पता चला कि अमेजन में लगी भीषण आग से निपटने के लिए बोल्‍सोनारो कड़ी मेहनत कर रहे हैं।’

अपने काम पर ध्‍यान दें मैक्रों

ब्राजील ने अमेजन वर्षावन में लगी भयावह आग को बुझाने के लिए जी7 देशों की ओर से की गई मदद की पेशकश को ठुकरा दिया है। ब्राजील के एक उच्‍च अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति ने G7 देशों की मदद की पेशकश को ठुकराते हुए फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रों से कहा कि वे अपने घर और अपने क्षेत्र पर ध्यान दें। फ्रांस के बिआरित्ज में 26 अगस्त को संपन्न हुए जी-7 शिखर सम्मेलन में इस समूह के नेताओं ने अमेजन वर्षावन में लगी आग से निपटने में ब्राजील की मदद करने का संकल्प व्‍यक्‍त किया था।

कुछ देश उठा रहे हालात का फायदा: ब्राजील

ब्राजील का कहना है कि अमेजन में लगी आग अब नियंत्रण में है और यह हर साल की घटना है। साथ ही ब्राजील ने कुछ देशों पर आरोप लगाया कि कुछ देश इस हालात का फायदा उठा रहे हैं और ब्राजील के साथ व्‍यापार पर रोक लगाने की कोशिश कर रहे हैं। ब्राजील की सरकार के अनुसार, हर साल अगस्‍त सितंबर माह में आग लगती है और इससे दुनिया के सबसे बड़े वर्षावन के हजारों हेक्‍टेयर जमीन बर्बाद हुए जो 2000 के दशक में लगी आग से हुई बर्बादी की तुलना में कम है।

यह भी पढ़ें: भविष्य के लिए खतरे की घंटी है अमेजन के जंगल की आग और ग्लेशियरों का पिघलना, जानिए कैसे?

यह भी पढ़ें: हवा में जहर घोल रही है अमेजन की आग, किलिमंजारो के बराबर ऊंचाई पर एकत्र हो रही जहरीली गैस

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप