वाशिंगटन, एजेंसी। क्‍या आप जानते हैं कि दुनिया के सबसे बेहतरीन शहर कौन-कौन से हैं। जी हां, अंतरराष्‍ट्रीय मीडिया संस्‍थान टाइम आउट ने दुनिया के 37 बेहतरीन शहरों की सूची जारी की है। दुनिया में कोरोना महामारी के दौरान टाइम आउट ने कुछ मानकों के आधार पर इस सूची को जारी किया है। इसमें किसी शहर का खान-पान, संस्‍कृति और अच्‍छी नाइटलाइफ के आधार पर शहरों का चयन किया गया है। ऐसे में सवाल उठता है कि क्‍या इस सूची में भारत के किसी शहर का नाम शामिल है। आइए, जानते हैं कि दुनिया के 37 बेहतरीन शहरों के नाम के बारे में। क्‍या है उनकी खासियत। इस सूची में भारत के किसी शहर का नाम नहीं है।

दुनिया के पांच शीर्ष बेहतरीन शहर

सैन फ्रांसिस्को : लाल रंग के पुलों, अपनी ओर आकर्षित करने वाले रेस्तरां और टेक इंडस्ट्री के लिए विख्यात अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को के ताज में एक और नगीना जड़ गया है। इसे खान-पान, संस्कृति और अच्छी नाइट लाइफ के मामले में यह दुनिया का सबसे बेहतरीन शहर माना गया है। अंतरराष्ट्रीय मीडिया संस्थान टाइम आउट की सूची में इसे पहला स्थान दिया गया है। सैन फ्रांसिस्को शहर कैलिफोर्निया में चौथी सबसे अधिक आबादी वाला शहर है और संयुक्त राज्य अमेरिका में 12 वीं सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। 

एम्सटर्डम : उसके बाद नीदरलैंड्स की राजधानी एम्सटर्डम है। एम्स्टर्डम नीदरलैंड की वाणिज्यिक राजधानी और यूरोप में शीर्ष वित्तीय केंद्रों में से एक है। एम्स्टर्डम को वैश्वीकरण और विश्व शहरों अध्ययन समूह द्वारा एक अल्फा विश्व शहर का दर्जा दिया गया है। यह शहर नीदरलैंड की सांस्कृतिक राजधानी भी है। 

मैनचेस्टर : तीसरे नंबर पर इंग्‍लैंड का शहर मैनचेस्टर है। 1853 में में इसे नगर का दर्जा दिया गया। यह दुनिया भर में सूती वस्त्र उद्योग के लिए प्रसिद्ध है। मैनचेस्टर युनाइटेड फुटबाल क्लब ग्रेटर मैनचेस्टर के ओल्ड ट्रेफोर्ड में स्थित एक इंग्लिश फुटबाल क्लब है जो दुनिया में सबसे अधिक लोकप्रिय फुटबाल क्लबों में से एक है। 

कोपनहेगन : चौथे स्‍थान पर डेनमार्क की राजधानी कोपनहेगन है। यह डेनमार्क का सबसे बड़ा शहर है। कोपेनहेगन जीलण्ड और अमागर द्वीपों पर बसा हुआ है। कोपनहेगन उत्तरी यूरोप के सबसे सघन क्षेत्रों में से एक है। नॉर्डिक देशों में कोपनहेगन सर्वाधिक पधारा जाने वाला देश है। विदेशी पर्यटकों को यह शहर खूब भाता है। जीवन स्तर के मामले में यह विश्व के सर्वश्रेष्ठ शहरों में से एक है। दुनिया के सबसे पर्यावरण-अनुकूल नगरों में से एक है। भीतरी बन्दरगाह का पानी इतना साफ है की उसमें तैरा जा सकता है। इस शहर में प्रतिदिन 36 फीसद नागरिक साइकिल से काम पर जाते हैं। यानी की प्रतिदिन 11 लाख किमी की साइकिल यात्रा यहाँ की जाती है। 

न्‍यूयार्क : इस सूची में 5वें पायदान पर न्‍यूयार्क है। न्यूयार्क शहर संयुक्त राज्य अमेरिका में सबसे अधिक आबादी वाला शहर है और एक वैश्विक शहर है। यह दुनिया का आर्थिक रूप से सबसे शक्तिशाली शहर है। न्यूयार्क शहर में संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय है। राज्य की दो-तिहाई जनसंख्या न्यूयार्क महानगरीय क्षेत्र में रहती है, और करीब 40 फीसद लोग लांग आईलैंड में रहते हैं। राज्य और शहर का नाम 17 वीं सदी के ड्यूक ऑफ यार्क यानी के इंग्लैंड के भावी राजा जेम्स द्वितीय के ऊपर रखा गया है।

दुनिया के 20 बेहतरीन शहरों में चार एशियाई मुल्‍कों के नाम शामिल

दुनिया के बेहतरीन 20 शहरों की सूची में एशिया के चार शहरों ने जगह पाई है। इसमें इजराइल की आर्थिक राजधानी तेल अवीव 8वें स्‍थान पर है। यह इजरायल में दूसरा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है। तेल अवीव व्‍हाइट सिटी 2003 में एक यूनेस्‍को विश्‍व विरासत स्‍थल के रूप में नामित है। तेल अवीव एक वैश्विक शहर है। यह एक लोकप्रिय अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल है। यह अपनी 24 घंटे की संस्कृति के लिए प्रसिद्ध है। मध्य पूर्व में तेल अवीव दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। दुनिया में 19 सबसे महंगे शहरों में एक है। 10वें स्‍थान पर जापान की राजधानी टोक्‍यो है। 17 वें स्‍थान पर चीन की आर्थिक व्‍यापार का केंद्र शंघाई है। 20वें पायदान पर हांगकांग है।

दुनिया के 20 बेहतरीन शहर

1- सैन फ्रांसिस्‍को

2- एम्‍सटर्डम

3- मैनचेस्‍टर

4- कोपेनहेगन

5- न्‍यूयार्क

6- मान्ट्रियल

7- प्राग

8- तेल अवीव

9- पोर्तो

10- टोक्‍यो

11- लास एंजिलिस

12- शिकागो

13- लंदन

14- बार्सिलोना

15- मेलबर्न

16- सिडनी

17- शंधाई

17- मैड्रिड

18- मैक्सिको सिटी

20- हांगकांग

ऐसे तैयार की गई सूची

कोरोना महामारी के दौरान सामुदायिक भावना, शहरी माहौल, पर्यावरण और लोगों से दोस्ताना व्यवहार जैसे मानकों पर 27 हजार लोगों से राय लेने के बाद यह सूची तैयार की गई है। खास बात यह है कि इस सूची में भारत का एक भी शहर नहीं है। संस्थान के मुताबिक प्रगतिशीलता, स्वीकार्यता और स्थिरता के बेजोड़ मेल के चलते सैन फ्रांसिस्को का दूसरा कोई शहर मुकाबला नहीं कर सका। राय देने वाले 73 फीसद ने कहा कि यहां महामारी में सख्त लाकडाउन और उसके बाद उठाए गए कदमों को नागरिकों ने लागू करने में पूरी तरह साथ दिया। खूबसूरती से तैयार किए गए पार्कलेट इस शहर को किसी विशाल स्ट्रीट पार्टी स्थल में बदल देते हैं। दूसरे नंबर पर मौजूद एम्सटर्डम का 27 फीसद क्षेत्र हराभरा है। इससे पर्यटक खिंचे चले आते हैं। यहां के लोग आधुनिक, पर्यावरण प्रेमी हैं। तीसरे नंबर के मैनचेस्टर को 71 फीसद लोग रचनात्मक मानते हैं। कोपेनहेगन को सर्वे में शामिल 66 फीसद लोगों ने आरामदायक बताया। टोक्यो को 82 फीसद लोग नई चीजों की खोज करने वाला मानते हैं। स्वच्छता के साथ शहर के हर कोने में देश की कला झलकती है।

Edited By: Ramesh Mishra