राज्य ब्यूरो, कोलकाता। बंगाल विधानसभा के अध्यक्ष बिमान बनर्जी ने चार्जशीट मामले में ईडी, सीबीआइ अधिकारियों को फिर तलब किया है। स्पीकर के समन पर गत बुधवार को केंद्रीय जांच एजेंसियों के अधिकारी हाजिर नहीं हुए थे। इस बार चार अक्टूबर दिन निर्धारित किया गया है। 

दरअसल स्पीकर ने उनकी मंजूरी के बिना नारद स्टिंग आपरेशन मामले में ईडी, सीबीआइ की ओर से राज्य के दो मंत्रियों सुब्रत मुखर्जी और फिरहाद हकीम और विधायक मदन मित्रा के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किए जाने को लेकर सीबीआइ के उप पुलिस अधीक्षक सत्येंद्र सिंह व ईडी के सहायक निदेशक रथीन विश्वास को तलब किया था।

दोनों केंद्रीय एजेंसियों ने बुधवार को इस कदम की कानूनी प्रकृति की व्याख्या करते हुए एक पत्र भेजकर समन को टाल दिया था। ईडी ने बुधवार को दूसरी बार विधानसभा अध्यक्ष को पत्र देकर कहा था कि उन्होंने राज्यपाल की मंजूरी के बाद ही चार्जशीट दाखिल की है।

स्पीकर को केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों को तलब करने का अधिकार नहीं है। कोई नियमों का उल्लंघन नहीं हुआ है। तब स्पीकर ने कहा कि उन्होंने इस मामले को 'बंद अध्याय' नहीं माना। उनकी मंजूरी के बिना तृणमूल कांग्रेस के विधायकों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किए जाने से विधानसभा की बदनामी हुई है।

इसी तरह स्पीकर ने फिर से दोनों एजेंसियों को पत्र भेजकर चार अक्टूबर को उनके अधिकारियों को पेश होने को कहा है। दूसरी ओर केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों को तलब करने को लेकर ईडी और विधानसभा अध्यक्ष के बीच हुए पत्राचार को लेकर तृणमूल-भाजपा में आरोप-प्रत्यारोप शुरू हो गया है। 

Edited By: Priti Jha