राज्य ब्यूरो, कोलकाता। भाजपा छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल हुए रायगंज के विधायक कृष्ण कल्याणी को बंगाल विधानसभा (विस) की लोक लेखा समिति (पीएसी) का नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। सोमवार को इस बाबत विस सचिवालय से अधिसूचना जारी की गई। विस स्पीकर बिमान बनर्जी ने इस पद के लिए उन्हें नामित किया था, जिसका भाजपा ने कड़ा विरोध किया है।

गौरतलब है कि मुकुल राय ने पिछले दिनों अस्वस्थता का हवाला देते हुए पीएसी के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। मुकुल राय की तरह कृष्ण कल्याणी ने भी भाजपा के टिकट पर पिछला विस चुनाव लड़ा व जीता था। विस चुनाव के बाद वे भाजपा छोड़कर तृणमूल में शामिल हो गए थे। भाजपा विधायक व विस में विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी ने पीएसी के अध्यक्ष पद पर मुकुल की नियुक्ति का विरोध किया था।

सुवेंदु ने कहा था कि पीएसी का अध्यक्ष पद मुख्य विरोधी दल के विधायक को दिया जाता है। मुकुल भाजपा छोड़कर तृणमूल में शामिल हो चुके हैं इसलिए उन्हें पीएसी का अध्यक्ष नहीं बनाया जाना चाहिए था। कृष्ण कल्याणी को नया अध्यक्ष बनाए जाने पर भी भाजपा का यही तर्क है और आने वाले दिनों में वह इसका भी जोरदार विरोध कर सकती है।

भाजपा की तरफ से विस स्पीकर से दलबदल विरोधी कानून के तहत मुकुल राय और कृष्ण कल्याणी समेत उन सभी विधायकों की विस सदस्यता खारिज करने की मांग की गई है, जो भाजपा छोड़कर तृणमूल में चले गए हैं। मुकुल राय के संदर्भ में विस स्पीकर ने कहा था कि उनके पार्टी बदलने के कोई ठोस सुबूत नहीं दिए गए हैं। गौरतलब है कि पीएसी के अध्यक्ष रहते मुकुल राय इसकी किसी भी बैठक में शामिल नहीं हुए थे।

यह भी पढ़ें -   ममता ने बंगाल में चुनाव बाद हिंसा की घटना को बताया बेबुनियाद, कहा- यह सिर्फ भाजपा का नाटक

Edited By: Babita Kashyap