राज्य ब्यूरो कोलकाता : भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) खड़गपुर ने परिवहन क्षेत्र में एक सहयोगी अनुसंधान केंद्र स्थापित करने के लिए म्यूनिख के तकनीकी विश्वविद्यालय (टीयूएम) के साथ एक आशय पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं जो आटोमोबाइल, रेल, समुद्री परिवहन सहित विद्युत वाहन प्रणालियों को मजबूत करेगा।

अनुसंधान केंद्र का नाम ‘इंडो-जर्मन कलैबरेटिव रिसर्च सेंटर ऑफ इंटेलिजेंट ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम’ है और यह दोनों संस्थानों के बीच सहयोग को मजबूत करेगा।

आइआइटी खड़गपुर ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि दोनों संस्थानों के बीच होने वाला सहयोगी अनुसंधान और विकास आटोमोबाइल, रेल, समुद्री वाहन, यूएवी सहित विद्युत गतिशीलता प्रणाली को बढ़ाने वाले परिवहन पर जोर देगा। आइआइटी खड़गपुर के निदेशक प्रोफेसर वीरेंद्र कुमार ने कहा कि विभिन्न साझेदारों की भागीदारी के साथ उन्नत अनुसंधान, परामर्श और प्रशिक्षण कार्यक्रम दक्ष परिवहन प्रणालियां लाने के लिए नए क्षेत्र तैयार करेगा।

Edited By: Vijay Kumar