नई टिहरी, [जेएनएन]: बांध प्रभावित ग्रामीणों ने नई टिहरी के हनुमान चौक पर विरोध प्रदर्शन किया। टिहरी बांध प्रभावित ग्रामीणों ने हनुमान चौक पर हनुमान चालीसा का पाठ कर हनुमान को विस्थापन की मांग का ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने कहा कि सरकार और प्रशासन से निराश होने के बाद अब वह हनुमान भगवान की शरण में गए हैं और शासन व प्रशासन की सद्बुद्धि की प्रार्थना की है। मांगे पूरी न होने पर टिहरी झील में जल समाधि लेने का भी ग्रामीणों ने एलान किया। 

मंगलवार को नई टिहरी हनुमान चौक पर आंशिक डूब क्षेत्र संघर्ष समिति के अध्यक्ष सोहन ङ्क्षसह राणा ने कहा कि शासन और प्रशासन से विस्थापन की मांग करते हुए ग्रामीणों को दस साल से ऊपर हो गया है। हर बार आश्वासन दिया जाता है, लेकिन आज तक ग्रामीणों का विस्थापन नहीं हो पाया। जबकि टिहरी झील के कारण 415 परिवारों के मकानों में दरारें पड़ गई है खेतों में भूस्खलन हो रहा है। जिससे हर वक्त खतरा बना है, लेकिन सरकार को हमारी कोई परवाह नहीं है।

ऐसे में निराश होकर भगवान की शरण में जाना पड़ रहा है। भगवान हनुमान से हमारी प्रार्थना है कि अधिकारियों को सदबुद्धि दे ताकि हमारा विस्थापन हो सके। राणा ने कहा कि टिहरी झील के कारण उनका जीवन खराब हो रहा है। ऐसे में विस्थापन न होने पर सभी ग्रामीण टिहरी झील में जल समाधि लेने से भी पीछे नहीं हटेंगे। इस दौरान राजेंद्र कुमाई, प्रदीप भट्ट, उम्मेद सिंह, सजवाण, हरेंद्र सिंह, अजय सिंह, भरत सिंह, कमला देवी, सूरतराम आदि ग्रामीण मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें: टाइगर रिजर्व के विरोध में एफटीआई में गरजे चोरगलिया के ग्रामीण

यह भी पढ़ें: बीएम साह ओपन थियेटर को गोद देने से रंगकर्मी भड़के, नैनीताल में किया प्रदर्शन

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कर्मचारियों का दो दिनी कार्य बहिष्कार, बढ़ रही लोगों की दिक्कतें

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस