पौड़ी, जेएनएन। पौड़ी जिले के विकासखंड पाबौ के पिपली गांव में होम क्वारंटाइन के दौरान मरने वाले व्यक्ति का कोरोना संक्रमण सैंपल जांच में पॉजिटिव आया। इससे प्रशासन सहित गांव में हड़कंप मच गया है। एहतियात के तौर पर प्रशासन ने पूरे गांव को क्वारंटाइन कर सील कर दिया है। 

पोस्टमार्टम करने वाली स्वास्थ्य टीम, पंचनामा भरने के दौरान शामिल पंचों व पुलिस टीम का सैंपल लिया है। मृतक के स्वजनों का भी सैंपल लिया है। उधर, स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक मौत के कारणों का पोस्टमार्टम में भी स्पष्ट कारण पता नहीं लग पाया है। इसके चलते अब इसका बिसरा सुरक्षित रख लिया गया है। 

बीती 22 मई को पीपली गांव में होम क्वारंटाइन रहे शैलेंद्र चमोली की मौत हो गई थी। उसे गाजियाबाद से गांव आने पर क्वारंटाइन किया था। तब प्रशासन ने मौत का कारण टीबी की बीमारी बताया था। हालांकि एहतियात के तौर पर उसका सैंपल भी लिया गया था। जिसकी रिपोर्ट अब पॉजिटिव आई है। 

होम क्वारंटाइन में रहे मृतक के कोरोना पॉजिटिव आने की सूचना पर प्रशासन सहित ग्रामीणों में भी हड़कंप मच गया है। सुबह प्रशासन की टीम गांव पहुंची और पूरे गांव को क्वारंटाइन कर सील कर दिया। ग्राम प्रधान शकुंतला देवी ने बताया कि उक्त मृतक के संपर्क में गांव के करीब 60 लोग आए थे। मृतक के परिवार में मां, पत्नी व दो बच्चे हैं।

यह भी पढ़ें: Coronavirus: पौड़ी में तीन दिन में छह लोग कोरोना संक्रमित

प्रधान शकुंतला ने बताया कि प्रशासन के नियमों के तहत पूरे गांव को होम क्वारंटाइन कर दिया है। सीएमओ डॉ. मनोज बहुखंडी ने बताया कि मृतक होम क्वारंटाइन व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आया है। पूरी चौकी हुई क्वारंटाइन पाबौ चौकी के सभी पुलिसकर्मियों को क्वारंटाइन कर दिया है। उक्त पूरी टीम पंचनामा की कार्रवाई में शामिल थी। एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि पाबौ में व्यवस्था के लिए अन्य पुलिस कर्मियों को भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें: पौड़ी में क्‍वारंटाइन में एक और व्‍यक्ति की मौत, गाजियाबाद से लौटा था युवक; अब तक हो चुकी है तीन मौत

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस