पौड़ी, जेएनएन। जिला चिकित्सालय पौड़ी में आइसोलेट की गई दो महिलाएं भी कोरोना पॉजिटिव पाई गई हैं। तीन दिन में छह कोरोना संक्रमित मरीज सामने आने से पौड़ी में हड़कंप मच गया है। पॉजिटिव पाए गए सभी लोगों को मेडिकल कॉलेज श्रीनगर में आइसोलेट कर लिया गया है।

कोरोना पॉजिटिव पाई गई एक महिला एकेश्वर ब्लॉक की रहने वाली है। वह कुछ दिनों पहले अपने नाती के साथ गुरुग्राम से गांव लौटी थी। महिला के नाती को जिला चिकित्सालय में आइसोलेट कर दिया गया है। दूसरी संक्रमित महिला पाबौ ब्लॉक की रहने वाली है। वह विगत दिनों दिल्ली से लौटी थी। 

वहीं, बीते शनिवार को मुख्यालय पौड़ी में संस्थागत क्वारंटाइन में रह रहे दो व्यक्तियों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया था। रविवार को एक व्यक्ति में कोरोना पॉजीटिव पाया गया था। इसके साथ ही पाबौ ब्लॉक के पीपली गांव में होम क्वारंटाइन के दौरान मृत व्यक्ति का कोरोना सैंपल भी पॉजिटिव आया है। 

तीन दिनों में कोरोना के छह मामले सामने आने से पुलिस, प्रशासन व ग्रामीणों में हडकंप मच गया है। प्रशासन ने कोरोना संक्रमितों के संपर्क में आने वाले सभी लोगों को क्वारंटाइन कर लिया है। एहतियात के तौर पर पॉजिटिव आए लोगों के गांवों में आवाजाही पूरी तरह बंद कर दी है।

सीएमओ डॉ. मनोज बहुखंडी ने बताया कि कोरोना के तीन सैंपल पॉजिटिव आए हैं। इनमे दो महिलाएं और एक पीपली गांव के मृतक व्यक्ति का सैंपल शामिल है। उन्होंने बताया कि कोरोना पॉजिटिव दोनों महिलाओं को मेडिकल कॉलेज श्रीनगर आइसोलेट कर लिया गया है।

कोरोना पॉजिटिव का इलाज कर रही स्वास्थ्य टीम क्वारंटाइन

जिला चिकित्सालय पौड़ी की एक टीम को क्वारंटाइन कर दिया गया है। उक्त टीम जिला चिकित्सालय में कोरोना पॉजिटिव आई महिलाओं का इलाज कर रही थी। टीम में एक चिकित्सक सहित छह लोग शामिल थे। जनपद पौड़ी में दो महिलाए कोरोना पॉजिटिव पाई गई है। उक्त महिलाएं कुछ दिनों से जिला चिकित्सालय में आइसोलेट थी। 

पॉजिटिव पाए जाने के बाद उन्हें श्रीनगर मेडिकल कॉलेज शिफ्ट कर दिया गया है। एक बुजुर्ग महिला का पोता अभी जिला अस्पताल में ही है। उसका सैंपल जांच के लिए भेजा जा रहा है। सीएमएस डॉ. आरएस राणा ने कहा कि टीम के सभी सदस्यों का सैंपल लिया गया है। 

यह भी पढ़ें: पौड़ी में क्‍वारंटाइन में एक और व्‍यक्ति की मौत, गाजियाबाद से लौटा था युवक; अब तक हो चुकी है तीन मौत

रिपोर्ट आने तक टीम के सदस्यों को क्वारंटाइन किया गया है। रिपोर्ट के बाद अग्रिम कार्यवाही की जाएगी। डॉ. राणा ने कहा कि एक टीम के क्वारंटाइन होने से चिकित्सा कार्यों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। इस टीम के स्थान पर दूसरी टीम को लगा दिया गया है।

यह भी पढ़ें: सरकारी भवन, होटल और धर्मशालाओं में बनेंगे क्वारंटाइन सेंटर

Posted By: Bhanu Prakash Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस