Move to Jagran APP

Uttarakhand Election Result 2024: सब्‍जी बेचने से लेकर केंद्रीय राज्‍य मंत्री तक, बेहद संघर्षपूर्ण रहा सांसद अजय भट्ट का जीवन

Uttarakhand Election Result 2024 उत्तराखंड की राजनीति में का बड़ा चेहरा बन चुके अजय भट्ट ने अपने जीवन में बहुत उतार चढ़ाव देखें हैं। इन लोकसभा चुनावों में उत्‍तराखंड की नैनीताल-ऊधमसिंह नगर सीट से केंद्रीय राज्‍य मंत्री और सांसद अजय सिंह भाजपा उम्‍मीदवार के रूप में मैदान में उतरे और विजय हुए। उत्‍तराखंड की पांचों सीटों पर प्रथम चरण में 19 अप्रैल को मतदान हुआ था।

By Nirmala Bohra Edited By: Nirmala Bohra Tue, 04 Jun 2024 06:52 PM (IST)
Uttarakhand Election Result 2024: अजय भट्ट ने अपने जीवन में बहुत उतार चढ़ाव देखें हैं।

ऑनलाइन डेस्‍क, देहरादून: Uttarakhand Election Result 2024: उत्तराखंड की राजनीति में का बड़ा चेहरा बन चुके अजय भट्ट ने अपने जीवन में बहुत उतार चढ़ाव देखें हैं। भले ही आज उनका राजनीतिक कद ऊंचाई पर है, लेकिन उनके जीवन में एक समय ऐसा भी आया। जब उन्‍हें आजीविका चलाने के लिए सब्‍जी तक बेचनी पड़ गई। नगर पंचायत अध्यक्ष का चुनाव हारने के बाद उन्‍होंने हिम्‍मत नहीं हारी और लंबे सियासी अनुभव की बदौलत मोदी कैबिनेट में जगह बनाई।

इन लोकसभा चुनावों में उत्‍तराखंड की नैनीताल-ऊधमसिंह नगर सीट से केंद्रीय राज्‍य मंत्री और सांसद अजय सिंह भाजपा उम्‍मीदवार के रूप में मैदान में उतरे और विजय हुए। उन्‍होंने इस जीत का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया। नैनीताल-ऊधमसिंह नगर लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्‍याशी अजय भट्ट ने जीत दर्ज की। उन्‍होंने कुल 772671 वोट प्राप्‍त किए। उन्‍होंने कांग्रेस प्रत्‍याश प्रकाश जोशी को 334548 से शिकस्‍त दी।

बता दें कि उत्‍तराखंड की पांचों सीटों पर प्रथम चरण में 19 अप्रैल को मतदान हुआ था।

मेलों में दुकानें लगाई और बेची सब्‍जी

गांव के एक गरीब कार्यकर्ता ने मेहनत और संघर्ष के बाद सब्‍जी बेचने से लेकर केंद्रीय राज्‍य मंत्री बनने तक का सफर तय किया और सबके सामने उदाहरण भी पेश किया।

किशोरावस्था में ही अजय भट्ट पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। उनके सिर से पिता का साया उठ गया। दो भाइयों की भी मौत हो गई। छोटी ही उम्र में परिवार की जिम्‍मेदारी उन पर आ गई। मेलों में दुकानें लगा पढ़ाई का खर्चा निकाला। द्वाराहाट में सब्जी की दुकान चलाई। फिर अल्मोड़ा से एलएलबी किया। 1985 में वह भाजयुमो से जुड़ गए।

  • पिता का नाम - स्व. कमलापति भट्ट
  • माता का नाम - स्व. तुलसी देवी भट्ट
  • जन्म तिथि - 01-05-1961
  • पता - 784, गांधी चौक रानीखेत जिला अल्मोड़ा
  • शिक्षा - एलएलबी
  • वैवाहिक स्थिति - विवाहित
  • पत्नी - पुष्पा भट्ट, व्यवसाय वकालत
  • परिवार - तीन पुत्रियां व एक पुत्र। क्रमश : मेघा भट्ट बीटेक व एमबीए (विवाहित), स्नेहा भट्ट बीटेक व एमबीए, सुनीता भट्ट वकालत पूर्ण व पुत्र दिग्विजय भट्ट एलएलबी में अध्ययनरत।

विदेश यात्राएं

  • कनाडा
  • आस्ट्रेलिया
  • इंग्लैंड

पार्टी से जुड़ाव

विद्यार्थी जीवन में विद्यार्थी परिषद से जुड़ाव एवं 1980 से सक्रिय सदस्य व पूर्व में पूरा परिवार जनसंघ में समर्पित।

जेल यात्राएं

  • मुरली मनोहर जोशी के नेतृत्व में उत्तरांचल राज्य प्रगति के लिए अल्मोड़ा में गिरफ्तारी,
  • अयोध्या मंदिर निर्माण के लिए दो बार गिरफ्तारी 18-10-1990 व 26-10-1990 में,
  • 08-12-1990 को मुलायम सिंह के अयोध्या कांड के बाद प्रथम बार सार्वजनिक तौर पर रानीखेत आगमन पर प्रबल विरोध में गिरफ्तारी एवं मुकदमा कायम।

राजनीतिक जीवन

  • 1985 में तत्कालीन उत्तर प्रदेश के नेतृत्व ने उन्हें कार्यकारणी सदस्य बनाया।
  • 1996 से 2000 तक विधायक रानीखेत
  • 2002 से 2007 तक पुन: विधायक रानीखेत और दो बार प्रदेश महामंत्री रहे-
  • 2001-2002 में अंतरिम सरकार में कैबिनेट मंत्री का दायित्व
  • 2009 से 2011 तक उत्तराखंड सरकार में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य सलाहकार एवं अनुश्रवण परिषद के अध्यक्ष
  • 2012 से 2017 तक नेता प्रतिपक्ष
  • 31 दिसंबर 2015 से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष
  • 2019 में नैनीताल-ऊधम सिंह नगर सीट से सांसद
  • 2021 से केंद्रीय रक्षा व पर्यटन राज्य मंत्री बने