हल्‍द्वानी, जेएनएन : सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या राम जन्मभूमि का मामला बातचीत के जरिए सुलझाने को कहा है। मध्यस्थता के लिए तीन लोगों का पैनल गठित किया है। पैनल की अध्यक्षता सुप्रीम कोर्ट के सेवानिवृत्त जस्टिस इकबाल खलीफुल्ला करेंगे। उनके अलावा आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पंचू पैनल के सदस्य होंगे।

वहीं श्री श्री इसी बीच अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार हल्‍द्वानी पहुंचे हैं। इस दौरन उन्‍होंने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि मध्‍यस्‍थता कमेटी में शामिल होने की जानकारी अभी-अभी प्राप्‍त हुई है। रामजन्‍मभूमि विवाद को अपने स्‍तर से सुलझाने के लिए हर संभव कोशिश करूंगा। उम्‍मीद है इसका समाधान जरूर निकलेगा। इस दौरान उन्‍हें कमेटी में रखने पर हो रही राजनीति पर सवाल पूछने पर श्री श्री ने कहा कि राजनीति करना राजनीतिक दलों का काम है। ये सवाल आप लोग उन्‍हीं लोगों से पूछिए। 


राजनीतिक सवाल पर टाल गए बात
पत्रकारों से बातचीत के दौरान श्री श्री राजनीतिक सवालों का जवाब देने से बचते नजर आए। जब उनसे पूछा गया कि मध्‍यस्‍थता कमेटी में उन्‍हें रखे जाने को लेकर तमाम तरह के सवाल उठने शुरू हो गए हैं, इस पर उन्‍होंने कहा कि यह सवाल आप जाकर राजनीतिक दलों से पूछिए। रामजन्‍मभूमि विवाद पर हो रही राजनीति का सवाल भी वो बड़ी आसानी से टाल गए।

चार बजे से शुरू होगा महासत्‍संग
महा सत्संग में प्रवचन देंगे। इसका समय 4:00 बजे से 5:00 बजे तक निर्धारित है। इसके लिए एमबी इंटर कॉलेज परिसर में पूरी तैयारी की गई है। इससे पहले वह वैशाली कॉलोनी स्थित आरएस कालाकोटी के आवास पर पहुंचे और उन्होंने मीडिया से बात की।

यह भी पढ़ें : दहेज मांगा तो बारात लौटाई, फिर असिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा में टॉप कर गई एल्‍बा
यह भी पढें : इलाज के लिए सात किमी डोली में लाया गया विधायक राम सिंह कैड़ा की मां को

Posted By: Skand Shukla