हल्द्वानी, जेएनएन : आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर के हल्द्वानी आगमन को लेकर उनके अनुयायियों में उत्साह है। एमबी इंटर कॉलेज ग्राउंड में भव्य मंच तैयार किया जा रहा है। आठ मार्च को महासत्संग में रविशंकर आध्यात्मिक प्रवचनों से लोगों को जीवन जीने की कला सीखाएंगे। मुख्य मंच से ग्राउंड के बीचोंबीच दस फीट चौड़ा व दौ सौ फीट लंबा रैंप बनाया गया है। प्रवचन के दौरान रैंप पर चलकर रविशंकर भक्तों के बीच जाएंगे।

आर्ट ऑफ लिविंग संस्था ने सत्संग में आने वाले लोगों से आयोजन स्थल तक आने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल करने की अपील की है, जिससे ग्राउंड में पार्किंग की समस्या खड़ी न हो। आठ मार्च को पंतनगर एयरपोर्ट से रविशंकर सड़क मार्ग द्वारा हल्द्वानी पहुंचेंगे। शाम चार से पांच बजे तक सत्संग होगा। ग्राउंड में दस हजार लोगों के बैठने की व्यवस्था की जा रही है। तीनों मुख्य गेट खुले रहेंगे, जिसमें मंच के समीप के गेट से रविशंकर सत्संग में प्रवेश करेंगे। इसके अलावा सुरक्षा व्यवस्था भी चाक चौबंद रहेगी। आयोजकों की माने तो काशीपुर, रुद्रपुर, अल्मोड़ा सहित आसपास के स्थानों से संस्था से जुड़े पंद्रह हजार लोग सत्संग में शिरकत करेंगे। कार्यक्रम संयोजक रघुवीर सिंह कालाकोटी ने बताया कि इस मौके पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त भजन गायक नितिन डाबर अपनी पूरी टीम के साथ भजनों की प्रस्तुति देंगे। दोपहर में सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह ने आयोजन स्थल का निरीक्षण किया। 

पचास हजार निमंत्रण पत्र बांटे

महासत्संग के प्रचार-प्रसार के लिए बुधवार को संस्था से जुड़े लोगों ने पदयात्रा निकालकर प्रचार किया। शहर के प्रमुख बाजारों में भजन-कीर्तन करते हुए स्वयंसेवकों ने लोगों को सत्संग में आमंत्रित किया। आर्ट ऑफ लिविंग के एपैक्स मेंबर धीरेंद्र कबड़वाल ने बताया कि पिछले एक माह से कुमाऊं के सभी जिलों में प्रचार प्रसार किया गया। व्यक्तिगत तौर पर घर-घर जाकर पचास हजार निमंत्रण पत्र बांटे गए हैं।

यह भी पढ़ें : पिछली गलतियों से नहीं लिया सबक, सफाई में 99 पायदान पीछे सरका हल्द्वानी

यह भी पढ़ें : मुकुल सती अपर शिक्षा निदेशक माध्यमिक व रघुनाथ प्रभारी अपर शिक्षा निदेशक बेसिक बने

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस