रामनगर, जेएनएन : स्वीडन के शाही परिवार के आतिथ्य-सत्कार को लेकर पुलिस-प्रशासन व खुफि या विभाग सतर्क हो गया है। उनके आगमन व रिसॉर्ट में ठहरने के दौरान कड़ी सुरक्षा रहेगी। उनकी सुरक्षा व आवागमन के लिए पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों ने ढेला पहुंचकर व्यवस्थाएं देखीं। सुरक्षा के लिए जनपद के थानों से पुलिस फोर्स मंगाया गया है।

गुरुवार को स्वीडन की रानी सिल्विया व राजा कार्ल गुस्ताफ उत्तराखंड घूमने के लिए आ रहे हैं। शाम को वह कोटद्वार से कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के अंतर्गत कालागढ़ के रास्ते ढेला गांव स्थित जिम जंगल रिट्रीट पहुंचेंगे। रात को रुकने के बाद शुक्रवार को झिरना क्षेत्र के पत्थरकुआं स्थित डेरे में वन गूजरों से मिलेंगे। बुधवार को डीआईजी जगत राम जोशी, एसडीएम हरगिरी गोस्वामी, सीओ पंकज गैरोला ढेला पहुंचे। उन्होंने रिसॉर्ट में शाही परिवार के लिए की गई व्यवस्थाओं को देखा। इसके अलावा ढेला के आसपास पुलिस सुरक्षा ड्यूटी प्वाइंट व आवागमन मार्ग की व्यवस्थाएं परखीं। शाही परिवार के ठहरने के लिए रिसॉर्ट प्रबंधन उनके स्वागत की तैयारी में जुटा है। पूरा रिसॉर्ट शाही परिवार व सुरक्षा अधिकारियों के लिए बुक है। नैनीताल जिले से अतिरिक्त पुलिस फोर्स मंगाया है। सीओ गैरोला ने बताया कि  गुरुवार को सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मियों की कोतवाली में ब्रीफिं ग की जाएगी। इसके बाद उन्हें ड्यूटी प्वाइंट में तैनात किया जाएगा।

सीटीआर की भी रहेगी सुरक्षा

पुलिस व बाहरी सुरक्षा कर्मियों के अलावा सीटीआर के कर्मचारी भी उनकी सुरक्षा में रहेंगे। इस संबंध में विभाग द्वारा तैयारी पूरी कर ली गई है।

ढेला और झिरना की बुकिंग निरस्त

सीटीआर के निदेशक राहुल ने बताया कि शुक्रवार को सुबह की पाली में शाही परिवार झिरना क्षेत्र में घूमेंगे। इसके लिए ढेला व झिरना क्षेत्र में पर्यटकों की आवाजाही को रोका गया है। जिन पर्यटकों की एडवांस ऑनलाइन बुकिंग थी, शाही परिवार की सुरक्षा के मद्देनजर उनकी बुकिंग निरस्त की गई है।

यह भी पढ़ें : रात में नॉर्मल पैदा हुए नवजात की सुबह मौत, अस्पताल प्रबंध के खिलाफ परिजनों ने किया हंगामा

यह भी पढ़ें : यूपी सिंचाई विभाग यूपीसीएल को करेगा मूल बिल का भुगतान, सरचार्ज होगा माफ 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप