हल्द्वानी, जेएनएन : लोकसभा चुनाव की तिथि घोषित होने से पहले ही कांग्रेस भी पूरी तरह चुनावी फील्डिंग सजाना चाहती है। इसके लिए तय पर्यवेक्षकों ने दौरे शुरू कर दिए हैं। नैनीताल-ऊधमसिंह नगर जिले के पर्यवेक्षक दिनेश अग्रवाल भी पांच मार्च को नैनीताल जिले के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे।

स्वराज आश्रम में आयोजित चुनावी बैठक में जहां वह चुनावी स्थिति को लेकर कार्यकर्ताओं का मन टटोलेंगे, वहीं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं बीच चल रहे मनमुटाव को भी दूर करने की कोशिश करेंगे। हालांकि, यह टास्क उनके लिए किसी चुनौती से कम नहीं होगा। ऐसा इसलिए कि कांग्रेस के दिग्गजों के बीच निकाय चुनाव के बाद से ही जुबानी युद्ध चल रहा है। पार्टी में यह माहौल टिकट हासिल करने को लेकर है। वरिष्ठ नेताओं के इशारों पर चलने वाले समर्थक भी उनकी ही भाषा बोल रहे हैं। इसलिए लोकसभा चुनाव से पहले पर्यवेक्षक के लिए पार्टी में नेताओं को एकजुट करना प्राथमिकता में होगा। ताकि टिकट मिलने के बाद बगावत व भीतरघात जैसी स्थिति न पैदा हो। महानगर अध्यक्ष राहुल छिमवाल का कहना है कि स्वराज आश्रम में बैठक 11 बजे से दो बजे तक चलेगी। इसमें जिले के सभी कार्यकर्ताओं को आमंत्रित किया गया है।

पार्टी में एकजुटता है

सतीश नैनवाल, जिलाध्यक्ष, कांगे्रस ने बताया कि पार्टी में एकजुटता है। पर्यवेक्षक पांच मार्च को आएंगे। सभी कार्यकर्ताओं से एक-एक करके मिलेंगे। उनके बात करेंगे। इसके लिए तैयारी चल रही है।

यह भी पढ़ें : मुख्यमंत्री रावत ने एसटीएच में एक अरब 97 करोड़ की योजनाओं का किया शिलान्‍यास

यह भी पढ़ें : महाशिवरात्रि : जानिए इन शिवालयों का महात्‍म, देश-दुनिया में विख्‍यात हैं महादेव के ये मंदिर

Posted By: Skand Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस