हरिद्वार, जेएनएन। झबरेड़ा में ट्यूबवेल के कनेक्शन पर गन्ना कोल्हू संचालित करने के मामले में निगम की टीम ने दो दर्जन गन्ना कोल्हू के कनेक्शन काट दिए। इस पर गुस्साए कोल्हू ठेकेदार और किसानों ने बिजलीघर पर प्रदर्शन करते हुए जबरन क्षेत्र की बिजली बंद करा दी। बाद में नगर पंचायत अध्यक्ष के आश्वासन के बाद मामला शांत हुआ। 

दरअसल, ऊर्जा निगम की ओर से इस बार निर्देश दिए गए थे कि गन्ना कोल्हू का संचालन व्यवसायिक कनेक्शन पर होगा। इसके लिए प्रीपेड मीटर दिए जाएंगे। ट्यूबवेल के कनेक्शन पर कोल्हू नहीं चलेगा। इस बारे में कई बार निगम की ओर से क्षेत्र के गन्ना कोल्हुओं पर सूचना प्रसारित कराई गई। बावजूद इसके किसी ने भी व्यवसायिक कनेक्शन नहीं लिया। इस पर निगम की ओर से दो दर्जन गन्ना कोल्हू के कनेक्शन काट दिए गए। 

इस बात की जानकारी तब कोल्हू ठेकेदारों और किसानों को मिली तो उन्होंने हंगामा करते हुए दोपहर में बिजलीघर से आपूर्ति बंद करा दी। साथ ही धरना शुरू कर दिया। इस बीच नगर पंचायत के अध्यक्ष मानवेंद्र चौधरी मौके पर पहुंचे। उन्होंने निगम के अधिकारियों से वार्ता की। इस पर अधिशासी अभियंता आशुतोष तिवारी भी मौके पर पहुंचे। नगर पंचायत अध्यक्ष ने कहा कि निगम को इस बात की जानकारी पहले देनी चाहिए थी। वह मुख्यमंत्री और एमडी से बातचीत करेंगे। इस पर निगम ने 18 दिसंबर तक का समय दिया है। फिलहाल, शाम पांच बजे आपूर्ति सुचारू कर दी गई। 

यह भी पढ़ें: पेयजल निगम कर्मचारियों की चेतावनी, जल्द स्थानांतरण नहीं किया तो होगा आंदोलन

इस मौके पर भाकियू अंबावत के प्रदेश अध्यक्ष विकास सैनी, मुकेश कुमार, सुभाष कुमार, यशपाल, जयपाल, मुनव्वर हसन, कयूम अहमद, नौशाद, दिलशाद आदि धरने पर मौजूद रहे।

यह भी पढ़ें: किसानों ने सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा, झूठे वायदे करने का लगाया आरोप

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस