जागरण संवाददाता, हरिद्वार। राजस्थान के दो भाइयों की शादी करवाने का झांसा देकर एक लाख रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। उत्तरी हरिद्वार में रहने वाले एक पंडित ने युवतियां दिखवाकर शादी की बात पक्की कर ली। राजस्थान से युवकों का परिवार शादी करने हरिद्वार भी पहुंच गया, लेकिन पंडित गायब हो गया। पुलिस ने आरोपित पंडित समेत दोनों युवतियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

शहर कोतवाली पुलिस के मुताबिक, राजस्थान के दौसा जिले के कस्बा बांदीकुई निवासी शेर सिंह ने कोतवाली में तहरीर दी कि वह बांदीकुई रेलवे स्टेशन पर ठेकेदार राधा देवी का खाने का ठेला चलाता है। राधा देवी के दो बेटे हैं, जिनकी शादी नहीं हुई है। करीब दो सप्ताह पहले जिला संभल के गांव मैदावली निवासी पंडित बालिस्टर यादव से उनकी मुलाकात हुई थी। बालिस्टर यादव उत्तरी हरिद्वार के खड़खड़ी में रहता है। राधा के बेटों की शादी को लेकर बातचीत होने पर बालिस्टर ने कहा कि वह शादी करवा देगा, मगर युवतियां गरीब हैं। शादी का पूरा इंतजाम वर पक्ष को ही करना होगा। शादी भी हरिद्वार में ही होगी।

बातचीत तय होने पर बालिस्टर ने पांच मई को हरिद्वार बुलाया। तय कार्यक्रम के अनुसार शेर सिंह दोनों युवकों मनीष मिश्रा व रवि को लेकर हरिद्वार आ गया। स्टेशन पर पहुंचने के बाद पंडित बालिस्टर यादव ने युवतियां भी दिखवा दीं। इसके बाद कन्या पक्ष के घर पर खान-पान का इंतजाम कराने के नाम पर एक लाख रुपये लेकर वह भाग गया। घंटों इंतजार के बाद भी जब पंडित वापस नहीं आया तो शेर सिंह को शक हुआ। खोजबीन करने पर शादी की पूरी कहानी फर्जी पाई गई। शेर सिंह का आरोप है कि जिन युवतियों को शादी के लिए बुलाया गया था, वह भी कुछ देर बाद ही चली गईं।

शहर कोतवाल अमरजीत सिंह ने बताया कि शेर सिंह की तहरीर पर पुलिस ने बालिस्टर यादव, सोनाली चौहान निवासी हरिपुर कलां व दीप निवासी रानीगली भूपतवाला के खिलाफ धोखाधड़ी में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फिलहाल मामले की जांच शुरू कर दी है। दोनों युवतियों की तलाश की जा रही है।

यह भी पढ़ें-Rishikesh Crime News: लग्जरी कारों में हो रही थी शराब तस्करी, तीन चढ़े पुलिस के हत्थे

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

Edited By: Sunil Negi