जागरण संवाददाता, हरिद्वार: औद्योगिक क्षेत्र सिडकुल में बुधवार देर रात बदमाशों ने एक व्यापारी को गोली मारकर नकदी से भरा बैग लूट लिया। व्यापारी सवाज पाल रावली महदूद की चौहान मार्किट से अपना मनी ट्रांसफर का आफिस और कपड़ों का शोरूम बंद कर घर लौट रहा था। इंद्रलोक कालोनी में दो अलग-अलग बाइकों पर सवार छह बदमाशों ने व्यापारी से नकदी से भरा बैग छीन लिया। विरोध करने पर एक बदमाश ने व्यापारी के सिर में दाहिनी आंख के पास गोली मार दी और नकदी लूटकर फरार हो गए।

पुलिस के मुताबिक, सवाज पाल निवासी ग्राम सिताबपुरी थाना भोपा जिला मुजफ्फरनगर कई साल से सिडकुल क्षेत्र की इंद्रलोक इंद्रलोक कालोनी में रहते हैं। उन्होंने रावली महदूद की चौहान मार्किट में मनी ट्रांसफर का आफिस और कपड़ों का एक शोरूम खोला हुआ है। बुधवार देर रात सवाज पाल नकदी से भरा बैग लेकर रावली महदूद से अपने घर इंद्रलोक कालोनी लौट रहे थे। घर से कुछ पहले ही बाइक सवार बदमाशों ने उन्हें रोक लिया और नकदी का बैग छीनने का प्रयास किया, विरोध करने पर एक बदमाश ने सवाज पाल के सिर में गोली मार दी।

गोली कनपटी में मारने का प्रयास किया, लेकिन निशाना चूक गया और गोली दाहिनी आंख के पास अंदर जा घुसी। इसके बाद बदमाश बैग लेकर फरार हो गए। सूचना पर एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, एएसपी सदर विशाखा भड़ाने और सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी जुटाई। आस पास के थानों से भी पुलिस टीमों और एसओजी प्रभारी रणजीत तोमर ने घटनास्थल पर पहुंचकर सुराग जुटाए। घायल व्यापारी को अस्पताल भिजवाने के बाद बदमाशों की तलाश में जिले भर में कांबिंग की गई। बैग में कितनी नकदी थी, व्यापारी के होश में आने पर है यह पता चल पाएगा।

फिलहाल, सिडकुल के निजी अस्पताल से रेफर करने के बाद व्यापारी को जौलीग्रांट स्थित हिमालयन अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। बदमाशों की तलाश में जिले भर की पुलिस ने तड़के तक कांबिंग की, पर बदमाशों का कुछ पता नहीं चल पाया। फिलहाल सवाज पाल की भाभी मोनिका पाल की तरफ से अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डा. योगेंद्र सिंह रावत ने बताया कि बदमाशों की तलाश की जा रही है। जल्द ही उन्हें गिरफ्तार कर घटना का पर्दाफाश कर लिया जाएगा।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

 गोली मारकर नकदी लूटने की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। फुटेज में एक बाइक पर तीन बदमाश घटना को अंजाम देते हुए नजर आ रहे हैं। उनके पास एक दूसरी बाइक पर तीन अन्य युवक दिख रहे हैं। शुरुआत में पुलिस मान रही थी कि दो अलग-अलग बाइकों पर छह बदमाशों ने घटना को अंजाम दिया है। लेकिन कई अलग-अलग फुटेज देखने से यह लग रहा है कि दूसरी बाइक पर सवार तीन युवक कोई आम राहगीर थे, गोली चलने पर वह डर के कारण फरार हो गए। हालांकि पुलिस उनकी तलाश भी कर रही है।

करीबियों पर भी घूम रही शक की सुंई

हरिद्वार: बदमाशों ने रैकी के बाद घटना को अंजाम दिया है। शुरुआती छानबीन में पता चला है कि बदमाश पहले से सवाज पाल के इंतजार में घात लगाए हुए थे। उन्हें मालूम था कि सवाज पाल कितने बजे नकदी लेकर घर के लिए निकलते हैं। माना जा रहा है कि कई दिन रैकी करने के बाद बदमाशों ने लूट को अंजाम दिया है। जितनी सफाई और आसानी से वारदात को अंजाम देकर बदमाश फरार हुए हैं, उससे किसी परिचित के शामिल होने की आशंका से भी पुलिस इन्कार नहीं कर रही है। पुलिस के साथ ही एसओजी की टीम भी बदमाशों की तलाश में जुट गई है।

दुकान पर कच्ची शराब बेच रही महिला गिरफ्तार

लक्सर के रायसी क्षेत्र में दुकान पर कच्ची शराब बेच रही महिला को पुलिस ने रंगे हाथ पकड़ लिया। मुकदमा दर्ज कर महिला को मौके पर ही जमानत देकर छोड़ दिया गया। रायसी चौकी प्रभारी विनय मोहन द्विवेदी को प्रतापपुर गांव में एक महिला के दुकान पर कच्ची शराब बेचने की सूचना मिली थी। सूचना पर उन्होंने महिला उपनिरीक्षक तनुजा शर्मा के साथ प्रतापपुर गांव में छापा मारा। मौके पर एक महिला कच्ची शराब के साथ पुलिस को मिली। पूछताछ में महिला ने अपना नाम सविता बताया। उसके पास से 10 लीटर कच्ची शराब बरामद की गई। चौकी प्रभारी ने बताया कि आरोपित महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उसे मौके पर ही जमानत पर छोड़ दिया गया।

यह भी पढ़ें:- Dehradun Crime News: देहरादून में हत्या के दोषी को उम्रकैद की सजा, पांच हजार रुपये का अर्थदंड भी

Edited By: Sunil Negi