संवाद सहयोगी, हरिद्वार। Makar Sankranti 2021 कुंभ नगरी के बाजारों में पिछले दस माह से पसरा सन्नाटा आखिरकार मकर संक्रांति स्नान पर्व के दौरान टूट ही गया। आर्थिक संकट से जूझ रहे व्यापारी वर्ग के चेहरे खिल उठे। अब उन्हें कुंभ मेले से अपने बेहतर भविष्य की उम्मीद दिखाई दे रही है। व्यापारियों का कहना है कि मकर संक्रांति स्नान की तर्ज पर ही आगामी स्नान पर्वों की भी व्यवस्था हो, जिससे व्यापारियों की आर्थिक स्थिति मजबूत हो सके। पिछले साल मार्च से कोरोना संक्रमण के चलते कुंभ नगरी में सन्नाटा पसर गया था और व्यापारियों को काफी नुकसान हुआ। हाल ही में संपन्न हुए कुछ स्नान पर्वों को लेकर उनमें उम्मीद जगी थी, लेकिन कोरोना की गाइडलाइन के कारण श्रद्धालु आ नहीं आ पाए थे। 

मकर संक्रांति स्नान पर्व मानो कुंभ नगरी के व्यापारी वर्ग के लिए बड़ी खुशियां लेकर आया। मुख्य बाजार के राम घाट स्थित पंडित ब्रदर्स के स्वामी उज्जवल पंडित बोले कि दिनभर बैठने के बाद दुकान पर महज बोनी ही हो पाती थी, लेकिन मकर सक्रांति पर्व पर यह मिथक टूट गया। निश्चित तौर पर आगामी समय बेहतरी का है। अपर रोड पर अमृतसरी भोजनालय के संचालक संजीव नैयर बेहद ही खुश नजर आए। उन्होंने कहा कि बाजार ही नहीं, बल्कि हर व्यापारी के अंदर बैठा डर आज खत्म हुआ है। सुबह से जहां बाजार में चहल-पहल रही। वहीं, व्यापारियों को भी राहत मिली है। 

आर्थिक संकट से उबरने की उम्मीद 

बड़ी सब्जी मंडी के पास महाशक्ति एंपोरियम स्वामी विपिन की मानें तो उन्हें मकर संक्रांति पर जैसी उम्मीद थी ठीक वैसा ही हुआ। अब कुंभ के स्नान पर्वों से आर्थिक संकट से उबरने की उम्मीद है। भल्ला रोड व्यापार मंडल के अध्यक्ष और शर्मा कलेक्शन के स्वामी संदीप शर्मा ने बताया कि वे कई महीनों से बिजली का बिल भी नहीं भर सके थे, लेकिन मकर संक्रांति के स्नान ने हर व्यापारी के चेहरे पर मुस्कान लाने का काम किया है। विष्णु घाट स्थित जय शिव ब्रांस के स्वामी प्रदीप कालरा ने बताया कि मकर संक्रांति उनके लिए नई खुशियां लेकर आई है। एक उम्मीद जगी है। व्यवस्था ऐसी होनी चाहिए, जिससे श्रद्धालुओं की संख्या लगातार बढ़ती चली जाए। 

व्यवस्था से खुश दिखे व्यापारी 

मकर संक्राति स्नान पर्व की व्यवस्थाओं से भी व्यापारी काफी खुश नजर आए। व्यापारी वर्ग ने कुंभ मेला पुलिस का आभार जताया है। भल्ला रोड़ पर संपन्न हुई बैठक को संबोधित करते हुए जिला महामंत्री संजीव नैयर ने कहा कि जिला प्रशासन की शुरुआत बेहद सराहनीय रही। तीर्थ यात्रियों के आगमन से व्यापारियों के चेहरे पर मुस्कुराहट लौटी है। व्यापारियों का मानना है कि आज की व्यवस्थाओं को देखकर मंद पड़ी आर्थिक स्थिति को संजीवनी मिलेगी। युवा व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष संदीप शर्मा ने कहा कि जिला प्रशासन और कुंभ मेला पुलिस बिना किसी परेशानी के कुंभ मेला संपन्न कराएगा। 

उन्होंने आगे कहा कि करीब डेढ़ साल से व्यापारी मंदी की मार झेल रहे हैं। कुंभ मेले से सभी को काफी उम्मीदें है। 

बैठक में जिला महामंत्री संजीव नैयर, योगेश अरोड़ा, संजीव सिंघल, नारायण अरोड़ा, तुषार शर्मा, जोगेंद्र अरोड़ा, अमित गोयल, विजय ललवानी, सतपाल छाबड़ा, प्रकाश नागर, योगेंद्र बंसल, अनिल माटा, हरीश पुरी, रमेश विशाल, मदन गोपाल, मनीष नेगी, गोपाल चौरासिया, रिंकू अरोड़ा, सुशील भसीन, कमल सहगल, रवि भूटानी, विकास गुप्ता, महेश, शिवम आहूजा, अनुराग शर्म, अंकुर, बिट्टू आदि मौजूद रहे। 

यह भी पढ़ें-  अमृत धारा में डुबकी लगाकर गदगद हो उठे श्रद्धालु, कुंभ स्नान की आस्था लेकर पहुंचे थे धर्मनगरी; जानिए क्या बोले

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021