संवाद सहयोगी हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 इस बार जूना एवं अग्नि अखाड़े की पेशवाई निकलने का स्थान बदल सकता है। ज्वालापुर की बजाए श्यामपुर क्षेत्र से पेशवाई निकाली जाएगी। हालांकि, अभी इस फैसले पर मंथन चल रहा है। जल्द ही अखाड़े के पदाधिकारी आपसी विचार विमर्श कर अपना निर्णय लेंगे।

चार मार्च को जूना एवं अग्नि अखाड़े की पेशवाई निकाली जाएगी। पेशवाई के साथ ही अखाड़ों के रमंता पंचों का आगमन होता है। उसके बाद कुंभ में अखाड़े की कमान रमता पंचों के हाथ में आ जाती है। जूना एवं अग्नि अखाड़े की संयुक्त पेशवाई अब तक ज्वालापुर के गुघाल मंदिर पांडेय से निकलती रही है, जो ज्वालापुर से कनखल होते हुए छावनियों में पहुंचती है। पेशवाई में बैंड बाजे, हाथी घोड़े शामिल होते है और अखाड़े अपने करतब भी दिखाते है। लेकिन, ज्वालापुर से पेशवाई निकलने पर पेंच फंस रहा है। पेशवाई के रूट पर पड़ने वाले ज्वालापुर रेलवे फाटक पर अंडरपास बन गया है।

यहां अतिक्रमण भी बड़ा समस्या बन गया है। हालांकि, तीर्थ पुरोहित समाज का एक धड़ा फिराहेडियान ज्वालापुर से ही पेशवाई निकालने की मांग पर अड़ा है। लेकिन, अंदरखाने अखाड़े में ज्वालापुर के अलावा श्यामपुर क्षेत्र से भी पेशवाई निकालने पर मंथन चल रहा है। दरअसल, श्यामपुर से पेशवाई निकलने पर कही भी यातायात व्यवस्था एवं अतिक्रमण बाधा नहीं बनेगा, सीधे हाईवे से होते हुए पेशवाई छावनी में पहुंचेगी। जूना अखाड़ा के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहंत हरिगिरि ने बताया कि दोनों ही विकल्प खुले हैं, जल्द ही इस पर निर्णय ले लिया जाएगा। मेला अधिष्ठान से भी इस संबंध में वार्ता चल रही है।

यह भी पढ़ें-Haridwar Kumbh Mela 2021: छोटी निकली निरंजनी अखाड़े की धर्मध्वजा की लकड़ी

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप