संवाद सहयोगी, हरिद्वार। Haridwar Kumbh Mela 2021 हरिद्वार में पिछले कुंभ व देश के अन्य राज्यों में आयोजित हुए मेला पर्वों में सुरक्षा उपायों को लेकर जिला प्रशासन की संयुक्त टीम सर्वे कर रिपोर्ट तैयार करेगी। इसमें हरिद्वार में नए फ्लाईओवर, पुल निर्माण और हाईवे चौड़ीकरण सहित अन्य विकास कार्यों के बाद शहर में हुए भौगोलिक पर्वितन का अध्ययन किया जाएगा। साथ ही कोविड-19 संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए किए गए उपायों पर भी जोर दिया जाएगा।

शुक्रवार को कलक्ट्रेट सभागार में कुंभ में आपदा प्रबंधन को लेकर जिलाधिकारी सी रविशंकर ने अधीनस्थों की बैठक ली। जिसमें कुंभ में भीड़ वाले इलाकों से कितनी दूरी पर चिकित्सालयों की स्थापना, एंबुलेंस, फायर स्टेशन, दमकल, पुलिस की तैनाती सहित सुरक्षा इंतजाम को लेकर मंथन हुआ। 

जिलाधिकारी ने किसी भी आपदा की स्थिति से पूर्व बचाव की तैयारी तथा किसी भी प्रकार की आपदा के दौरान किए जाने वाले उपायों पर प्रत्येक फील्ड कार्मिक को जागरूक बनाने की आवश्यकता बताई। इसके अलावा रेलवे स्टेशन पर भगदड़ की घटनाएं और अग्नि दुर्घटनाएं, सड़क व पुलों की दुर्घटना सहित आपदा की स्थिति से किस प्रकार निबटा जाएगा इस विषय पर मंथन किया गया।

यह भी पढ़ें-Haridwar Kumbh Mela 2021: कुंभ में सुरक्षा के फुलप्रूफ इंतजाम, संतों को फिर भी खतरा

बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त केके मिश्रा, अपर मेला अधिकारी ललित नारायण मिश्रा, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, मुख्य नगर आयुक्त जयभारत सिंह, सिटी मजिस्ट्रेट जगदीश लाल, एएसपी जीआरपी मनोज कत्याल सहित लोनिवि, सिंचाई विभाग, यूपीसीएलए समेत अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

यह भी पढ़ें- Haridwar Kumbh 2021: घटाई गई मेला अवधि, अब सिर्फ एक महीने का होगा कुंभ; जानें- कब होगा शुरू

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप