हरिद्वार, [जेएनएन]: कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता पीएल पुनिया ने नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। आरोप लगाया कि नोटबंदी के निर्णय से पहले ही भाजपाइयों ने बिहार, उड़ीसा समेत कई अन्य राज्यों में जमीनें खरीद ली थी। इसकी न्यायिक जांच होनी चाहिए। कहा कि उत्तराखंड में सीएम व संगठन के बीच कोई मतभेद नहीं है।


हरिद्वार पहुंचने पर कांग्रेस नेता ने डामकोठी में पत्रकारों से बातचीत में यह बातें कही। कहा कि कांग्रेस भ्रष्टाचार व कालाधन के खिलाफ रही है। केंद्र सरकार का नोटबंदी का उद्देश्य सही है, लेकिन अधूरी तैयारियों के साथ की गई घोषणा ने देश की जनता को परेशान कर दिया है। शादी ब्याह वाले घर व किसान चिंतित हैं। मरीजों को उपचार नहीं मिल पा रहा है। देश के बाजार सूने पड़े हैं। आरोप लगाए कि भाजपाइयों ने करोड़ों रुपये अपने खाते में जमा कराए, जबकि बिहार में 21 व उड़ीसा में 18 स्थानों पर जमीनें खरीदी गई।

पढ़ें-पीएम करेंगे देवभूमि का कल्याण, लिखेंगे विकास की इबारत: तीरथ
इसका रेकार्ड कांग्रेस के पास है, जबकि अन्य स्थानों पर भी जमीनें खरीदकर कालेधन को ठिकाने लगाया गया। कहा कि उप्र में कांग्रेस अकेले चुनाव लड़ेगी। उप्र में प्रियंका गांधी ने प्रचार के लिए सहमति दी है, लेकिन अंतिम निर्णय प्रियंका का होगा। पश्चिम बंगाल में सेना लगाने पर ऐतराज जताते हुए कहा कि राज्यों को संविधान के तहत अधिकार दिए गए हैं। केंद्र को सेना लगाने से पहले अनुमति लेनी चाहिए थी।

पढ़ें-जन्म से पूर्व उत्तराखंड की भ्रूण हत्या करने वाली है कांग्रेसः उमा भारती
राज्य सरकार से खुश नहीं पुनिया
कांग्रेस प्रवक्ता पीएल पुनिया ने बताया कि हरकी पैड़ी स्थित संत शिरोमणि गुरु रविदास मंदिर के ऊपर सीढ़ियां हैं जहां से लोग जूते चप्पल पहनकर गुजरते हैं। उन्होंने मंदिर के ऊपर सीढ़ियों को न हटाने पर राज्य सरकार की कार्यप्रणाली पर असंतोष जताया। कहा कि सरकार ने गुंबद ऊंचा कर दिया था, लेकिन सीढ़ियां हटानी चाहिए थी। कहा कि इस बावत सीएम हरीश रावत से वार्ता करेंगे।

पढ़ें-महाराज ने सीएम पर साधा निशान, कहा भ्रष्टाचार का लिया सहारा

उन्होंने मंदिर का भी निरीक्षण किया। इस दौरान गुरु रविदास मंदिर मुक्ति आंदोलन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महंत बृजेशदास, प्रदेश उपाध्यक्ष ब्रहमदस, कोषाध्यक्ष सोमपाल उनियाल ने प्रवक्ता से मुलाकात की और मंदिर के ऊपर से सीढ़ियां पंद्रह दिन के भीतर नहीं हटने पर खुद तोड़ने की चेतावनी दी।

पढ़ें-मुख्यमंत्री भी सार्वजनिक करें खातों का ब्योरा: बलूनी

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप