संवाद सहयोगी, हरिद्वार: भारतीय किसान यूनियन (टिकैत) ने किसानों की समस्याओं को लेकर प्रदेश में महाआंदोलन की चेतावनी दी है। कहा कि नौ अगस्त को उत्तराखंड में चक्काजाम किया जायेगा। किसान महाकुंभ के समापन मौके पर आयोजित किसान महापंचायत में भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने यह ऐलान किया। उन्होंने 11 सूत्रीय माग पत्र सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से प्रधानमंत्री व उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत को पत्र भेजा।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी जनपदों में दूसरे राज्यों की तर्ज पर मासिक किसान दिवस का आयोजन जिलाधिकारी की अध्यक्षता में करें। इसमें किसानों की समस्या सुनने के साथ ही उनका समाधान भी किया जाये। प्रदेश में किसानों की आमदनी को सुनिश्चित करने के लिये किसान आय आयोग का गठन किया जाये। साथ ही आय आयोग की सिफारिश के आधार पर प्रदेश में कृषि नीति भी बनाई जाये। राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि काशीपुर एस्कॉर्ट फार्म में 2006 में भाकियू व सरकार के बीच हुए समझौते के अनुसार किसानों को भूमिधर का आधार दिया जाये। साथ ही किसानों के निजी नलकूप के विद्युत कनेक्शन से मासिक किराया समाप्त कर किसानों को 50 पैसे प्रति यूनिट की दर से विद्युत आपूर्ति की जाये। इस मौके पर भाकियू के हरिद्वार जिलाध्यक्ष रवि चौधरी ने कहा कि किसानों की आर्थिक स्थिति को देखते हुए नकद सहायता के रूप में सब्सिडी उपलब्ध कराई जाये। पहाड़ पर खेती करने वाले किसानों को परिवहन सहायता के रुप में भी सब्सिडी दी जाए। महापंचायत में संजय चौधरी, नितिन चौधरी, हुकुम ¨सह रावत, युद्धवीर ¨सह चौधरी, प्रेम ¨सह सहोता, विजय शास्त्री, राजपाल शर्मा आदि उपस्थित थे।