जागरण संवाददाता, देहरादून। Uttarakhand Weather Update उत्तराखंड में मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है। चंद रोज मौसम के सामान्य रहने के बाद मंगलवार से फिर प्रदेश में बारिश और ओलावृष्टि का दौर शुरू होने के आसार हैं। मौसम विभाग ने बुधवार और गुरुवार को प्रदेश के कई इलाकों में भारी बारिश और ओलावृष्टि होने की चेतावनी जारी की है।

प्रदेश में मई की शुरुआत से ही मौसम रंग बदल रहा है। पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश, ओलावृष्टि और हिमपात के कई दौर होने से प्रदेशवासियों खासकर काश्तकारों को खासा नुकसान भी उठाना पड़ा है। मैदान में अंधड़ परेशानी का सबब बना हुआ है। हालांकि, रविवार को प्रदेश में मौसम सामान्य रहा। खासकर मैदानी इलाकों में चटख धूप खिली रही। पर्वतीय क्षेत्रों में आंशिक रूप से बादल नजर आए।

मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार अगले दो दिन प्रदेश में मौसम सामान्य रहने के आसार हैं। मंगलवार शाम पश्चिमी विक्षोभ के दोबारा सक्रिय होने से मौसम करवट बदल सकता है। इससे पहाड़ में भारी बारिश और मैदान में तेज हवा के ओलावृष्टि हो सकती है। इसको लेकर अलर्ट जारी किया गया है।

प्रमुख शहरों का तापमान

  • शहर-------अधिकतम--न्यूनतम
  • देहरादून------37.1-----18.2
  • मसूरी--------26.0------12.0
  • टिहरी--------25.8------11.8
  • उत्तरकाशी--29.5------13.0
  • हरिद्वार-----37.4------21.2
  • जोशीमठ----24.4------11.3
  • पिथौरागढ़---28.8-----10.1
  • अल्मोड़ा-----30.2-----11.6
  • मुक्तेश्वर----25.8----10.2
  • नैनीताल-----21.6----15.0
  • चंपावत------24.0-----09.1
  • यूएसनगर---38.5----19.0 

यह भी पढ़ें-Uttarakhand Weather Update: उत्तराखंड में अगले तीन दिन मौसम सामान्य रहने के आसार

मलबे से अट रहा डाकपत्थर रोड का नाला

जल भराव की समस्या से निजात दिलाने को डाकपत्थर रोड किनारे बना नाला गंदगी से अट गया है। जमा हो रहे मलबे और कूड़े-करकटकी सफाई सिंचाई विभाग की ओर से न कराए जाने से ग्रामीण परेशान हैं। क्षेत्र के निवासियों ने बरसात के मौसम से पहले नाले की सफाई कराने की मांग तहसील प्रशासन और सिंचाई अधिकारियों से की है।

विकासनगर क्षेत्र के पानी की निकासी के लिए पुल नंबर एक तक कई साल पहले सड़क किनारे नाले का निर्माण कराया गया था। बनने के बाद से सफाई नहीं होने के कारण नाले में चार फिट की गहराई तक मलबा जमा हो गया है, जिसके चलते नाले में पानी की निकासी बाधित हो गई है। नवाबगढ़ ग्राम पंचायत की प्रधान शबाना मलिक, ग्राम पंचायत सदस्य विनय जायसवाल, विवेक बिष्ट, संजय शर्मा, विमल चौधरी, पूरन सिंह का कहना है कि नाले के माध्यम से विकासनगर के साथ डाकपत्थर रोड स्थित आबादी क्षेत्र के पानी की निकासी होती है, लेकिन नाले के चोक होने से क्षेत्र की पानी की निकासी की समस्या गंभीर हो रही है। उनका कहना है कि नाले की सफाई नहीं होने से बरसात के मौसम में नाला से निकलकर पानी क्षेत्र में तबाही मचा सकता है।

Uttarakhand Flood Disaster: चमोली हादसे से संबंधित सभी सामग्री पढ़ने के लिए क्लिक करें