राज्य ब्यूरो, देहरादून। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस महासचिव हरीश रावत ने गैरसैंण को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि पवित्र सैन्य धाम को लेकर कुछ अच्छी बातें कहते-कहते मुख्यमंत्री गैरसैंण को लेकर भटक गए। इंटरनेट मीडिया पर शनिवार देर शाम अपनी पोस्ट में हरीश रावत ने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत पर तंज कसते हुए कहा कि उन्हें और उनकी पार्टी को गैरसैंण को राज्य की राजधानी के रूप में रूल्ड आउट करने का हक नहीं है। उनकी पार्टी भी गैरसैंण पर भटक गई है तो सुधारिये।

उन्होंने कहा कि गैरसैंण उत्तराखंड के लिए एक संभावना है। जो पलायन मैदानी क्षेत्रों के भीतर, शहरों में श्रम के रूप में परिवर्तित होते देख रहे हैं, इन सबका निदान केवल गैरसैंण है। नारसन से जसपुर तक और भटवाड़ी से लेकर मुनस्यारी तक गैरसैंण से नई योजनाएं पैदा होती हैं। नए क्षेत्र विकास के लिए तरक्की करेंगे। नीचे जहां हमारे पास भूमि उपलब्ध थी, वे सब क्षेत्र सेचुरेट हो गए हैं। नई संभावनाएं तलाशनी हैं। अपने नौजवान युवाओं के लिए तो केवल गैरसैंण के साथ हो सकता है।

प्रदेश सह प्रभारी वर्मा का जिलों का दौरा आज से

भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं उत्तराखंड की प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा 24 से 27 जनवरी तक जिलों का दौरा कर पार्टी कार्यकर्ताओं से संवाद करेंगी। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान के अनुसार प्रदेश सह प्रभारी रेखा वर्मा रविवार को चंपावत, 25 जनवरी को उधमसिंहनगर, 26 जनवरी को नैनीताल और 27 जनवरी को हरिद्वार जिले का दौरा करेंगी। इस दौरान वह मंडल अध्यक्षों के साथ ही संबंधित जिलों में रहने वाले प्रांतीय पदाधिकारियों, मोर्चा, प्रकोष्ठों के पदाधिकारियों से भी संवाद करेंगी। वह जिलों के पंचायत व निकायों के जनप्रतिनिधियों से भी विचार-विमर्श करेंगी।

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड सचिवालय संघ चुनाव: दीपक जोशी की अध्यक्ष पद पर लगातार तीसरी जीत

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021