राज्य ब्यूरो, देहरादून। Uttarakhand Assembly Elections 2022 उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के मोर्चे पर डट चुकी भाजपा ने अब आमजन से संपर्क करने को खास रणनीति अपनाई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चार दिसंबर की देहरादून रैली के बाद पार्टी प्रदेशभर में विशेष जनसंपर्क अभियान शुरू करने जा रही है। इस दौरान भाजपा की टोलियां घर-घर जाकर आमजन से संपर्क कर कुशलक्षेम तो पूछेंगी ही, गांव, क्षेत्र व प्रदेश की बेहतरी के लिए सुझाव भी लेंगी। साथ ही पार्टी की रीति-नीति और राज्य व केंद्र सरकारों की उपलब्धियों की जानकारी देंगी। यदि किसी कल्याणकारी योजना में कोई पात्र व्यक्ति छूट गया होगा तो उसे इससे लाभान्वित कराने के प्रयास किए जाएंगे।

प्रदेशभर में भाजपा एक दौर का जनसंपर्क अभियान पूरा कर चुकी है। अब पार्टी ने विशेष संपर्क अभियान शुरू करने का निश्चय किया है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक विशेष संपर्क अभियान की रणनीति तैयार कर ली गई है। इसके तहत विधानसभा क्षेत्र में रहने वाले प्रांतीय, जिला व मंडल व बूथ स्तर के पदाधिकारियों, कार्यकर्त्ताओं की टोलियां गठित की जा रही हैं। ये टोलियां गांव-गांव, घर-घर जाकर जनता से संपर्क करेंगी।

विशेष संपर्क अभियान के दौरान यह जानकारी भी ली जाएगी कि केंद्र व राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है अथवा नहीं। किसी पात्र व्यक्ति को लाभ न मिला हो तो उसे लाभान्वित करने को उचित स्तर पर कदम उठाए जाएंगे। साथ ही प्रत्येक घर कोरोनामुक्त हो, इसके लिए टीकाकरण की जानकारी भी ली जाएगी। यदि किसी का टीकाकरण नहीं हुआ तो उसे टीका लगवाने को प्रेरित किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- गन्ना किसानों के बहाने दो दर्जन सीटों पर भाजपा की निगाह, सीएम ने मझे खिलाड़ी की तरह खेल विपक्ष को चौंकाया

प्रभावशाली व्यक्तियों से भी संपर्क

भाजपा के प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार के अनुसार विशेष जनसंपर्क अभियान के दौरान प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में समाज में पकड़ रखने वाले व्यक्तियों से संपर्क किया जाएगा। उनसे आग्रह किया जाएगा कि प्रदेश की बेहतरी के लिए वे एक बार फिर से भाजपा की सरकार बनाने में सहयोग करें। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री की रैली के बाद यह अभियान शुरू किया जाएगा।

यह भी पढ़ें- Devasthanam Board: पूर्व सीएम हरीश रावत बोले, हार के डर से लिया देवस्थानम बोर्ड पर फैसला; जानें- और क्या कहा

Edited By: Raksha Panthri