देहरादून, जेएनएन। साइबर ठगों ने उप्र पुलिस के रिटायर्ड कोतवाल के खाते से साढ़े 42 हजार रुपये उड़ा दिए। खाते से रुपये निकलने का मोबाइल फोन पर मैसेज आने के बाद पता चला। रिटायर्ड कोतवाल ने बैंक को सूचना देने के साथ ही कोतवाली में तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। रिटायर्ड कोतवाल विकासनगर कोतवाली में भी तैनात रह चुके हैं। 

रिटायर्ड कोतवाल इंद्रमणि वर्मा पुत्र सुखबीर सिंह निवासी गुरुद्वारा गली, विकासनगर ने कोतवाली में तहरीर दी। इसमें बताया कि उनका केनरा बैंक में खाता है। आठ नवंबर को मोबाइल पर मैसेज आने पर पता चला खाते से किसी व्यक्ति ने 42500 रुपये निकाल लिए हैं। 

बैंक प्रबंधक विजय सिंह चौहान को भी इस संबंध में जानकारी दी तो स्टेटमेंट निकाली गई। इससे पता चला कि रकम खोए एटीएम के जरिये निकाली गई है। उधर, कोतवाल प्रदीप बिष्ट के अनुसार मामला साइबर ठगी का है, जिसकी जांच की जा रही है। रुपये किस एटीएम से निकाले गए, इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। 

वन विभाग ने छापा मारकर पकड़ी चोरी लकड़ी

कालसी वन प्रभाग की तिमली रेंज के जंगल से काटे गए साल के पेड़ की लकड़ी की चौखट बनाने की शिकायत पर वन टीम ने छापेमार कार्रवाई की। तिमली गांव से वन टीम ने सोमवार को लकड़ी तो बरामद कर ली, लेकिन आरोपित मौके से भाग निकला। तिमली रेंजर पूजा रावल ने इस मामले में आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। वन टीम फरार आरोपित की तलाश में जुटी है।

तिमली रेंजर को सूचना मिली कि जंगल से काटे गए साल के पेड़ की लकड़ी से एक घर में चौखट बनाई जा रही है। इस पर वन टीम ने तिमली गांव में महबूब के घर पर छापा मारा और जंगल से काटे गए साल की लकड़ी का दरवाजे व खिड़की से संबंधित कच्चा सामान बरामद किए। वन टीम ने मौके से लकड़ी, आरा आदि सामान कब्जे में लिया। 

यह भी पढ़ें: साइबर क्राइम से निपटने के लिए गठित होगी क्राइम इंटेलीजेंस यूनिट

रेंज कार्यालय में लाकर सुरक्षित रख लिया। तिमली रेंज में आरोपित के खिलाफ नियमानुसार मामला दर्ज किया गया। अवैध लकड़ी पकडऩे वाली टीम में वन दारोगा कुशराज सिंह, डीके सिंह, जेएस नौटियाल, वन बीट अधिकारी साधो सिंह गुसाईं, लखन सिंह, निधि सिंह, नितिन कुमार, मेदीन खान बीट सहायक, गुलशेर अंसारी बीट सहायक आदि शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: साइबर ठगों का शिकार बने ग्राफिक डिजाइनर, खाते से उड़ा दिए दस लाख Dehradun News

Posted By: Bhanu

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप