देहरादून, [जेएनएन]: उत्तराखंड के धावक सूरज पंवार ने यूथ ओलंपिक की एथलेटिक्स स्पर्धा में पदक जीतकर वर्षों का सूखा खत्म किया हैं। सूरज पवार ने 5000 मीटर वॉक रेस में रजत पदक अपने नाम किया है। एथलेटिक्स में सूरज ऐसा करने वाले भारत के पहले एथलीट बन गए हैं।

यूथ वॉक रेसरो में वर्ल्ड नंबर 3 देहरादून के प्रेमनगर क्षेत्र के निवासी सूरज पंवार पहली बार यूथ ओलंपिक में प्रतिभाग करने गए। जहां ना सिर्फ उन्होंने 5000 मीटर वॉक रेस में रजत पदक जीता है, बल्कि वर्षों से एथलेटिक्स स्पर्धा में पदक न मिलने से पड़े सूखे को भी खत्म किया। 

सूरज पंवार ने यह कारनामा मात्र 20:34 मिनट में किया हैं। इससे पहले 10 अकटुबेर को हुए प्रथम चरण में उन्होंने 20:23 मिनट में रेस पूरी कर नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया था। दोनों चरणों की रेस के औसत के आधार पर सूरज को रजत पदक मिला हैं। 

सूरज पंवार के कोच अनूप बिष्ट ने बताया कि सूरज ऐसा करने वाले भारत के पहली धावक बन गए हैं, बताया कि अभी तक यूथ ओलिंपिक में किसी भी खिलाड़ी ने एथलेटिक्स में पदक नहीं जीता था, लेकिन सूरज ने रजत पदक जीतकर वर्षों का सूखा खत्म कर दिया हैं। 

कोच ने बताया कि सूरज पंवार ने बैंकॉक में हुई यूथ एशियन प्रतियोगिता में 10 किमी वॉक रेस में रजत पदक जीता था। इसी चैंपियनशिप से ही यूथ ओलंपिक के लिए भी खिलाड़ी चुने गए। 

सूरज के कोच अनूप बिष्ट ने बताया कि साल 2016 से उसको कोचिंग दे रहे हैं। नेशनल में प्रदर्शन के दम पर साल 2017 में सूरज पंवार को महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज के एथलेटिक्स एक्सीलेंसी में प्रवेश मिला। बताया कि साल 2017 में सूरज ने यूथ एशियन चैंपियनशिप में प्रतिभाग किया था। साल 2018 में नेशनल चैंपियन बनने के बाद उनका चयन एशियन चैंपियनशिप के लिए हुआ। उन्होंने सूरज को पदक जीतने के लिए शुभकामनाएं दी हैं।

यह भी पढ़ें: सिटी यंग्स को हराकर उत्तराखंड पुलिस ने जीता फुटबाल का खिताब 

यह भी पढ़ें: लक्ष्य सेन को एकल में सिल्वर, टीम इवेंट में मिला गोल्ड

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड अंडर-23 क्रिकेट टीम के फाइनल ट्रायल को 60 खिलाड़ी चयनित

Posted By: Bhanu

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस