देहरादून, जेएनएन। नववर्ष के पहले ही दिन सर्वर फेल होने से पटरी से उतरी रोडवेज की ऑनलाइन टिकट सेवा अब भी बेपटरी है। स्थिति ये है कि दिल्ली आइएसबीटी पर मंगलवार को टिकट सर्वर पूरी तरह ठप रहा। ऐसे में यात्रियों के टिकट काउंटर से नहीं बन पाए, जिससे यात्रियों और परिचालकों के बीच विवाद भी हुआ। बताया जा रहा कि प्रदेश में भी कई डिपो में सर्वर में दिक्कत के चलते बसों की टिकट मशीनें तैयार नहीं हो पाईं। परिचालकों को मैनुअल बुक वाले टिकट देकर रूटों पर भेजा गया। 

दिल्ली में ऑनलाइन टिकट की बुकिंग पूरे दिन ठप पड़ी रही और यात्रियों को खासी परेशानी उठानी पड़ी। बसें निर्धारित समय से देरी से रवाना हुईं। रात तक सर्वर सुचारू नहीं हुआ था। बताया जा रहा कि सर्वर गत डेढ़ सप्ताह से दिक्कत कर रहा था, लेकिन इसे सुचारू करने पर ध्यान नहीं दिया गया। प्रदेश में रोडवेज का बेड़ा 14 सौ बसों का है। इनमें करीब सौ बसें वाल्वो, 125 एसी, 30 हाईटेक और बाकी सामान्य हैं। इनमें सभी डीलक्स बसों समेत करीब 700 बसों में ऑनलाइन टिकट बुकिंग की सुविधा है। ज्यादातर बसें लंबी दूरी की हैं। इनमें यात्री घर बैठे टिकट बुक करा देते हैं ताकि सीट का झंझट न रहे। ऐसे में सर्वर फेल होने से सैकड़ों यात्री ऑनलाइन सीट बुक नहीं कर सके। 

यह भी पढ़ें: ट्रांसपोर्टरों को राहत, बरकरार आमजन की आफत; पढ़िए पूरी खबर

इसके अलावा टिकट मशीनें भी बस जाने से पहले ऑनलाइन ही तैयार की जाती हैं। सर्वर के ठप पड़ने की वजह से मशीनों में डाटा फीड नहीं किया जा सका। दिल्ली आइएसबीटी पर दिक्कत इसलिए भी खासी रही, क्योंकि वहां से उत्तराखंड के ज्यादातर डिपो की बसें संचालित होती हैं। ऑनलाइन टिकट काउंटर पर टिकट न बनने से यात्रियों को सीट लेने में दिक्कत हुई।

यह भी पढ़ें: रोडवेज की बसों में सफर हुआ महंगा, साधारण बस सेवा में किराया 10 पैसे प्रति किमी बढ़ा

परिचालकों ने बसों में ही यात्रियों को टिकट दिए। बस के देरी से चलने और ऑनलाइन टिकट बुक न होने से रूटों पर परिचालकों को यात्रियों के आक्रोश का शिकार बनना पड़ा। यात्रियों के साथ परिचालकों की बहस होती रही। पूरा दिन यही सिलसिला चला। महाप्रबंधक दीपक जैन ने बताया कि सर्वर की दिक्कत का वह पता करा रहे हैं। दिल्ली में आई दिक्कत अभी उनके संज्ञान में नहीं आई है। 

यह भी पढ़ें: रोडवेज यात्रियों पर पड़ेगी मार, उत्तराखंड से दिल्ली के किराये में होगी बढ़ोतरी

Posted By: Raksha Panthari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस