देहरादून, जेएनएन। उत्तराखंड की सीनियर महिला टीम से दो खिलाड़ियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। रीना जिंदल और अंजू तोमर को चयनकर्ताओं ने टीम से बाहर कर दिया है। उनकी जगह दो अन्य खिलाड़ियों को जल्दी कैंप में शामिल किया जाएगा। 

बीसीसीआइ के घरेलू सत्र में खेलने के लिए उत्तराखंड की सीनियर महिला टीम का चयन किया गया था। इस टीम में 20 खिलाड़ियों को जगह दी गई थी। टीम का कैंप 15 नवंबर से सेलाकुई इंटरनेशनल स्कूल में आयोजित हो रहा है। 

चयनकर्ताओं ने कैंप से पहले सभी खिलाड़ियों को अपने प्रमाण पत्रों की जांच कराने के लिए कहा था। जांच के दौरान एक खिलाड़ी के निवास प्रमाण पत्र सही नहीं पाया गया। इसकी वजह से उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया। खिलाड़ी रीना जिंदल को अपने दस्तावेज पूरा नहीं कराने पर टीम से बाहर कर दिया। 

सूत्रों के मुताबिक रीना का मूल निवास प्रमाण पत्र उत्तर प्रदेश का है, जिसकी वजह से वह अपने दस्तावेज जमा नहीं कर पाई और बाहर होना पड़ा। वहीं अन्य खिलाड़ी अंजू तोमर को फिटनेस के आधार पर बाहर किया गया है। दरअसल टीम चयन के दौरान अंजू तोमर के हाथ में फ्रैक्चर था, वहां उन्होंने मेडिकल का उपयोग कर टीम में जगह बनाई। चयनकर्ताओं ने कैंप से पहले उन्हें फिटनेस प्रमाण पत्र लाने को कहा था। कैंप शुरू होने पर चयनकर्ताओं ने उन्हें फिटनेस के आधार पर बाहर कर दिया। 

रणजी ट्रॉफी टीम भुवनेश्वर रवाना 

उत्तराखंड की रणजी ट्रॉफी टीम शनिवार को दून से भुवनेश्वर के लिए रवाना हो गई है। उत्तराखंड को 20 नवंबर से भुवनेश्वर के केआइआइटी क्रिकेट स्टेडियम में सिक्किम के साथ अपना तीसरा रणजी मुकाबला खेलना है। 

यूसीसीसी के मैनेजर लॉजिस्टिक अमित पांडे ने बताया कि टीम मैनेजमेंट ने तीसरे मैच के लिए टीम में कोई बदलाव नहीं किए हैं। पिछली टीम ही मैदान पर खेलने उतरेगी।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की अंडर-19 क्रिकेट टीम में खिलाड़ी की उम्र शक के घेरे में

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के आर्य सेठी की पारी से इंडिया ग्रीन ने जीता खिताब

यह भी पढ़ें: कूच बिहार ट्रॉफी के लिए उत्तराखंड अंडर-19 टीम चयनित

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप