v>देहरादून, [जेएनएन]: उत्तराखंड में मौसम की बेरुखी के बीच मौसम विभाग का पूर्वानुमान उम्मीदों से भरा है। रविवार से सूबे में मौसम रंग बदल सकता है और महाशिवरात्रि तक पहाड़ों में हल्की से मध्यम वर्षा के आसार बन रहे हैं। ऊंचाई वाले कुछ स्थानों पर बर्फबारी की भी संभावना है।

प्रदेश में लंबे समय से मौसम शुष्क बना हुआ है। इसका असर खेती पर भी नजर आने लगा है। कृषि और राजस्व विभाग के सर्वेक्षण के मुताबिक राज्य में कम बारिश के कारण गेहूं की फसल को दस से तीस फीसद नुकसान पहुंचा है। इनमें सर्वाधिक प्रभावित रुद्रप्रयाग और अल्मोड़ा हैं। 
यहां यह आंकड़ा क्रमश: 30 और 20 फीसद है। इसके अलावा चम्पावत, चमोली और उत्तरकाशी की रिपोर्ट मिलनी अभी बाकी है। उत्तराखंड के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि कम बारिश के कारण फसलों को नुकसान की आशंका है, लेकिन शुरुआती रिपोर्ट में यह ज्यादा चिंताजनक नहीं है, लेकिन प्रभावित किसानों को राहत देने पर सरकार विचार कर रही है।
दूसरी ओर राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि एक जनवरी से एक फरवरी तक बारिश में 73 फीसद की कमी रही है। आमतौर पर इस अवधि में 65.1 मिमी बारिश होती है, जो इस बार 17.5 मिमी रही। इसी तरह पिछले नवंबर और दिसंबर में यह कमी 66 फीसद रही है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पश्चिमी विक्षोभ (वेस्टर्न डिस्टरबेंस) सक्रिय होने लगा है। इससे कुछ इलाकों में मध्यम वर्षा भी हो सकती है। इससे खेती-किसानी को कुछ राहत मिल सकेगी।

Posted By: Sunil Negi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप